The Bharat Bandhu

UP Bhadohi Fire Incident at Durga Puja Pandal: उत्तर प्रदेश भदोही में दुर्गा पूजा पंडाल में भीषण अग्निकांड 5 लोगों की मौत मरने वालों में 3 बच्चे भी शामिल

UP Bhadohi Fire Incident

UP Bhadohi Fire Incident at Durga Puja Pandal: उत्तर प्रदेश भदोही से दुर्गा पूजा पंडाल में महाआरती के दौरान भीषण आग से पंडाल हुआ खाक कई लोगों की मौत 3 बच्चे भी चढ़े आग की भेंट

UP Bhadohi Durga Puja Pandal Fire Incident: उत्तर प्रदेश के भदोही से बेहद ही दुखद खबर सामने आई है. जहां एक पूजा पंडाल में आग लगने से पूरा पूजा पंडाल खाक हो गया. इस अग्निकांड (Durga Puja Fire Incident) में कई लोगों की मौत की सूचना है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अभी तक 5 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है.

सबसे गंभीर बात यह है कि इस हादसे में 10 से 12 उम्र के 3 बच्चे भी आग की भेंट चढ़ गए हैं. जब यह अग्नि कांड हुआ है तो प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार चारों तरफ भगदड़ मच गई. लोग अफरातफरी में इधर-उधर भागने लगे. आग लगने के पीछे के कारणों का स्पष्ट रूप से पता नहीं चला है.

लेकिन भदोही के डिस्टिक मजिस्ट्रेट(UP Bhadohi DM) गौरंग राठी ने इस हादसे में शॉर्ट सर्किट(Sort Circuit at Durga Puja Pandal) की आशंका जाहिर की है. साथ ही गौरंग राठी ने मीडिया से यह भी बताया कि घायलों को उचित इलाज के लिए ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया है. घायलों की हालत के बारे में बात करते हुए भदोही के जिलाधिकारी गौरंग राठी ने कहा कि अभी घायलों की हालत स्थिर है. जिन घायलों को भर्ती किया गया है वे 30 से 40% तक जले हुए हैं.

प्रत्यक्षदर्शियों ने यह भी बताया कि जब यह घटना हुई तो वहां एक डिजिटल शो(Digital Show) का आयोजन किया गया था. साथ में ही वहां महाआरती भी हो रही थी. कुछ लोगों का यह भी कहना है कि यह घटना डिजिटल शो में इस्तेमाल हो रहे किसी उपकरण में शॉर्ट सर्किट की वजह से भी हो सकती है. जो भी तस्वीरें सामने आई हैं उसमें दुर्गा प्रतिमा के सामने की हर चीज खाक हो चुकी है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भदोही की इस भीषण अग्निकांड(UP Bhadohi Fire Incident) को लेकर बयान जारी किया है. उन्होंने कहा है कि इस घटना से हम सब बेहद ही आहत हैं और इस घटना में घायल हुए लोगों का समुचित इलाज की व्यवस्था की गई है.

भदोही की यह घटना रविवार रात्रि की है. रात्रि करीब 9:00 बजे एक तरफ दुर्गा आरती की व्यवस्था थी तो दूसरी तरफ डिजिटल शो का आयोजन था. पंडाल परिसर में लगभग डेढ़ सौ लोगों की होने की बात कही जा रही है. जैसे ही आग लगने की बात सामने आई लोग इधर से उधर भागने लगे. पुलिस प्रशासन ने इस घटना को लेकर फ़ोरेंसिक एक्सपोर्ट से जांच कराने की बात भी कही है.

ऐसा अक्सर देखा जाता है कि बड़े-बड़े पूजा समारोह जैसे कि दुर्गा पूजा(UP Bhadohi Fire Incident) या फिर गरबा(Garba Night) जैसे बड़े आयोजनों को दौरान आगजनी की घटनाएं हो जा जाती हैंं. इसके पीछे जो मूल कारण है वह है शॉर्ट सर्किट का होना. क्योंकि आजकल के दौर में  Electronic उपकरणों का इस्तेमानबहुत ज्यादा होता है और अगर उपकरणों की जांच सही से नहीं की जाए और कहीं कनेक्शन लूज रहे तो आग लगने की प्रबल संभावना बन जाती है.

 

देश