Statue Of Equality

Statue Of Equality क्यों है खास PM Modi द्वारा हो रहा है इसका अनावरण

Statue Of Equality भारत की पहली और विश्व की दूसरी सबसे बड़ी मूर्ति जिसका PM Modi द्वारा हैदराबाद में अनावरण

स्टैचू ऑफइक्ववैलिटी(Statue Of Equality)  विश्व की दूसरी सबसे बड़ी मूर्ति है जिसका उद्घाटन आज हैदराबाद में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किया जा रहा है.

इस मूर्ति को बनाने में एक हजार करोड़ से भी अधिक की लागत आई है. इसकी ऊंचाई 216 फुट बताई जा रही है. इसका निर्माण अस्ट धातुओं से किया गया है. मालूम हो कि इस के नाम को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी शामिल कर लिया गया है.

यह मूर्ति 11 वीं सदी के महान संत रामानुजाचार्य जोकि एक महान समाज सुधारक भी थे उनकी है. कहा जाता है कि वैष्णव समुदाय के महान संत रामानुजाचार्य समाज के हर वर्ग को एक साथ लेकर चलने की बात कहते थे.

शायद इसीलिए रामानुजाचार्य की मूर्ति का नाम स्टेचू ऑफ इक्ववैलिटी(Statue Of Equality) रखा गया है. बताते चलें कि जहां स्टैचू ऑफ इक्ववैलिटी की स्थापना हो रही है वहां पर 108 मंदिर भी बनाए गए हैं.

सबसे रोचक बात यह है कि स्टैचू ऑफ इक्वलिटी की ऊंचाई से लेकर इसके आसपास की हर चीज में अंको को लेकर विशेष ध्यान रखा गया है.

चाहे मूर्ति की ऊंचाई की बात हो या फिर मंदिर की सीढ़ियों की बात हो या फिर चारों तरफ बने हुए मंदिरों की संख्या की बात सभी के अंकों का योग 9 आता है.ऐसा इसलिए क्योंकि 9 अंक को बेहद ही शुभ माना जाता है.