PFI Leaders Arrested

PFI Leaders Arrested: PFI पर NIA और ED ने कसा शिकंजा 100 से अधिक PFI नेता हिरासत में किसी बड़ी कार्रवाई की थी आशंका

PFI Leaders Arrested: PFI के 100 से अधिक नेताओं पर NIA और ED की टीम ने की कार्यवाही हुए गिरफ्तार 10 राज्यों में छापेमारी.. किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की आशंका

PFI( Popular Front Of India) पर नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी(NIA) और प्रवर्तन निदेशालय(ED) ने एक बड़ी कार्यवाही करते हुए 10 राज्यों में ताबड़तोड़ छापामारी की और PFI के 100 से भी अधिक नेताओं को हिरासत में ले लिया है. NIA  ED की  इस छापेमारी(NIA ED Raid On PFI) का महत्व इस से ही लगाया जा सकता है कि खुद गृह मंत्री अमित शाह इस संबंध में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार(NSA) अजीत डोभाल और NIA DG समेत कई उच्च अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं.

NIA ने PFI के देश भर में चल रहे कई कार्यालयों को सील कर दिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पीएफआई के(PFI Offices Sealed By NIA ) हैदराबाद तेलंगाना सहित कई अन्य कार्यालय को सील कर दिया गया है. एनआईए और ईडी की मदद के लिए पैरामिलिट्री फोर्सेस को भी बुलाया गया था. बताते चलें कि पीएफआई के चेयरमैन को भी हिरासत में ले लिया गया है.

अभी हाल में ही पत्रकार सिद्धकी कप्पन को जमानत मिली है उन पर UAPA की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था. उन पर भी PFI से जुड़े होने के आरोप लगे हैं. कोई जमानतदार नहीं मिलने के कारण अभी भी वह उत्तर प्रदेश की जेल में बंद हैं.

आज के ताजा घटनाक्रम यानी PFI पर NIA और ED की रेड के बाद पत्रकार सिद्धकी कप्पन की भी मुश्किलें बढ़ने की आशंका है. वहीं मीडिया रिपोर्टस के अनुसार आज की यह कार्यवाही एक बड़ी कार्यवाही है क्योंकि एजेंसियों को यह संदेह है कि PFI देश में कोई बड़ी घटना को अंजाम देने वाला था. सूत्रों की माने तो बीते अगस्त में ही इस कार्रवाई का प्लान तैयार किया गया था जब अमित शाह तेलंगाना के दौरे पर थे.