Petrol Diesel Price Hiked

Petrol Diesel Price Hiked: थोक में डीजल खरीदने वालों को चुकानी होगी अधिक कीमत तेल कंपनियों ने बनाए नए नियम

Petrol Diesel Price Hiked: ट्रक बस और बड़े जनरेटर चलाने वालों को झटका थोक में डीजल खरीदारी पर चुकाना होगा अधिक दाम ₹28 प्रति लीटर तक महंगा मिलेगा डीजल

देश की जनता पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतों (Petrol Diesel Price) से पहले ही परेशान है लेकिन तेल कंपनियों ने एक बार फिर से मूल्य वृद्धि कर ग्राहकों को तगड़ा झटका दिया है.

तेल कंपनियों ने चालाकी से तेल की कीमतों में इजाफा किया है. जिसमें यह कहा गया है कि डीजल की थोक खरीदारी करने पर ग्राहकों से अधिक दाम वसूले जाएंगे.

देखने और सुनने में तो यही लगता है कि इससे तो सिर्फ थोक खरीदारों को ही परेशानी होगी खुदरा खरीदारों को तो कोई नुकसान नहीं होगा लेकिन यह बात पूरी तरह सही नहीं है.

थोक खरीदारों में मुख्य रूप से ट्रक बस और बड़े जनरेटर चलाने वाले लोग आते हैं. अगर ट्रक और बस में महंगे डीजल डाले जाएंगे तो निश्चित रूप से माल ढुलाई महंगी होगी और अंततः आम जनता को ही इसका बोझ उठाना पड़ेगा. क्योंकि बाजार में ढुलाई के बाद पहुंचे सामानों की कीमतों में वृद्धि होगी इसको लेकर कोई दो राय नहीं है.

किसानों को भी बढ़ी हुई कीमतों का नुकसान होगा क्योंकि किसान भी सुविधा के लिए डीजल की खरीद थोक में करते हैं साथ ही वैसे फैक्ट्री संचालकों को भी बढ़ी हुई कीमतें चुकानी होगी जिनकी फैक्ट्री डीजल जनरेटरों से संचालित होती है. बताते चलें कि अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि थोक खरीददारों में किन-किन लोगों को शामिल किया गया है.

इस बदले हुए नियम के बाद जहां मुंबई में खुदरा डीजल खरीदारों को 94.14 रुपया प्रति लीटर पर डीजल मिलेगा तो वहीं थोक खरीदारों को प्रति लीटर 122.05 रुपए चुकाने होंगे. अगर बात दिल्ली की करें तो यहां खुदरा डीजल की कीमत 86.67 ₹ है तो वहीं डीजल की थोक खरीदारी के लिए ₹115 प्रति लीटर कीमत अदा करनी होगी.