The Bharat Bandhu

On Chhath Puja Dry Day in Delhi: छठ पूजा 2022 को लेकर दिल्ली में पूर्ण शराबबंदी के आदेश शराब पीने और बेचने पर प्रतिबंध

On Chhath Puja Dry Day in Delhi

On Chhath Puja Dry Day in Delhi: छठ पूजा 2022 पर दिल्ली में शराब पीने वालों बेचने वालों को झटका उपराज्यपाल ने ड्राई डे किया अघोषित.. BJP की मांग पर उपराज्यपाल ने लगाई मोहर, साल 2014 में छठ पूजा पर सार्वजनिक अवकाश हुआ था घोषित 

On Chhath Puja Dry Day in Delhi:दिल्ली में छठ पूजा पर शराबबंदी का ऐलान: छठ पूजा का आयोजन सिर्फ बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश तक ही सीमित नहीं रहा है बल्कि दिल्ली समेत कई अन्य राज्य जहां पर छठ पूजा का आयोजन पिछले कई सालों से किया जा रहा है.

लेकिन इस बार दिल्ली में छठ पूजा को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों की तरफ से रोज एक से बढ़कर एक घोषणाएं की जा रही हैंं. जहां दिल्ली में आम आदमी पार्टी(AAP) की सरकार बिहार और यूपी के मतदाताओं को रिझाने के लिए इस बार छठ पूजा में कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रही तो वहीं बीजेपी ने भी केंद्र सरकार की मदद से अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है.

इसी संदर्भ में दिल्ली सरकार ने आज एक बड़ा फैसला लिया जिसमें छठ पूजा के दिन दिल्ली में ड्राई डे घोषित कर दिया गया है. यानी छठ पूजा के दिन अब शराब की बिक्री और पीने पर पूर्ण प्रतिबंध होगा.

बताते चलें कि दिल्ली में छठ पूजा(Chhath Puja 2022) पर ऐच्छिक अवकाश की घोषणा करने का श्रेय शीला दीक्षित को जाता है तो वहीं छठ को सार्वजनिक अवकाश घोषित करने का श्रेय बीजेपी को. क्योंकि साल 2000 में शीला दीक्षित ने दिल्ली में छठ पर्व पर ऐच्छिक अवकाश की घोषणा की थी तो वहीं साल 2014 जब दिल्ली में राष्ट्रपति शासन था उस समय छठ पूजा को सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया गया था.

बताते चलें कि दिल्ली में जल्द ही नगर निगम के चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में सभी पार्टियां खासकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी हर प्रकार से पूर्वांचल वासियों को अपने पाले में करने की कोशिश में लगी हुई है. दिल्ली में ढाई सौ के करीब नगर निगम की सीटें हैं और इसमें से करीब डेढ़ सौ सीटों पर पूर्वांचल वासियों का दबदबा है. जो कि जीत और हार में अहम भूमिका निभाते हैं इस कारण छठ पूजा(Chhath Puja Delhi) को लेकर आम आदमी पार्टी और बीजेपी में जनता को फायदा पहुंचाने की होड़ लगी हुई है.

देश