mafiya mukhtar ansari

मुख्तार अंसारी(Mukhtar Ansari) के करीबी पर UP प्रशासन का शिकंजा,आपराधिक गतिविधि से कमाई गई संपत्ति जप्त

Share

मुख्तार अंसारी(Mukhtar Ansari) पर UP प्रशासन ने एक बड़ी कार्रवाई की है.आज यूपी के मऊ के जिलाधिकारी ने मुख्तार अंसारी के करीबी की लगभग एक करोड़ 80 लाख की संपत्ति को ज़ब्त कर लिया.

कौन है मुख्तार अंसारी का करीबी जिसकी संपत्ति आज हुई है कुर्क

आज मऊ में जिलाधिकारी ने अपराध की धारा 14(1) जो कि गिरोह बंद एवं और सामाजिक गतिविधि निवारण अधिनियम से जुड़ी धारा है.इसके अंतर्गत सुरेश सिंह की संपत्ति कुर्क कर ली है.

नगर मजिस्ट्रेट त्रिभुवन कुमार के अनुसार अभियुक्त सुरेश सिंह जो मुख्तार अंसारी का करीबी है.उसने अपराध से संपत्ति अर्जित की थी. जिसकी अनुमानित लागत 1 करोड़ 80 लाख है. इस संपत्ति को आज जप्त कर लिया गया.

मुख्तार अंसारी के और करीबी महमूद अहमद के चार वाहनों को भी जब्त किया गया है. महमूद अहमद पर भी धारा 14(1)के तहत कार्यवाही की गई है.

UP के बांदा जेल में बंद है माफिया सरगना का हेड मुख्तार अंसारी

मुख्तार अंसारी जो कि कई सालों से UP पुलिस के लिए एक सिरदर्द बना हुआ था. वह अभी यूपी के बांदा जेल में बंद है.

मालूम हो कि मुख्तार अंसारी को महाराष्ट्र से काफी मश्क्कत के बाद यूपी पुलिस  उत्तर प्रदेश ले कर आई थी. जिसके बाद से मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद है.

महाराष्ट्र से यूपी लाने में के क्रम में भी काफी हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ था. मुख्तार अंसारी यूपी पुलिस से बचने के लिए महाराष्ट्र में एक साजिश के तहत छोटे अपराध रजिस्टर्ड करा खुद को जेल में बंद करवा लिया था.

जैसे ही यूपी पुलिस को मुख्तार अंसारी की चालाकी का पता चला तो सारे प्रशासन में हड़कंप मच गया. इसके बाद कानून का सहारा लेकर मुख्तार अंसारी को महाराष्ट्र से यूपी लाया गया.

आज भी कार्रवाई के बाद मुख्तार अंसारी की मुश्किलें और बढ़ जाएंगी. मालूम हो कि मुख्तार अंसारी के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत आजमगढ़ के तरवा पुलिस स्टेशन में मुकदमा दर्ज है.

UP Crime Updates के लिए सब्सक्राइब करें हमारी वेबसाइट www.thebharatbandhu.com

 

Scroll to Top