The Bharat Bandhu

Kanpur Tractor Trolley Accident: कानपुर में ट्रैक्टर ट्राली पर सवार 2 दर्जन से अधिक श्रद्धालुओं की दर्दनाक मौत मरने वालों में बड़ी तादाद में बच्चे भी शामिल

Kanpur Tractor Trolley Accident

Kanpur Tractor Trolley Accident: कानपुर में ट्रैक्टर ट्रॉली पलटने से हुई बड़ी दुर्घटना अभी तक 27 लोगों की मरने की पुष्टि मरने वालों में 11 बच्चे भी शामिल श्रद्धालु चंद्रिका देवी मंदिर से दर्शन कर लौट रहे थे वापस विपक्ष ने ट्रैक्टर ट्रॉली पर सवारी को लेकर सरकार पर उठाए सवाल

UP Kanpur Road Accident: कानपुर में एक बड़े सड़क हादसे (Kanpur Tractor Trolley Accident) में उन्नाव चंद्रिका देवी मंदिर से दर्शन कर लौट रहे 2 दर्जन से अधिक श्रद्धालुओं की मौत हो गई है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अभी तक 27 श्रद्धालुओं की मौत की पुष्टि हुई है, जिनमें से 11 बच्चे बताए जा रहे हैं. इस दुर्घटना में करीब 30 लोग घायल भी हुए हैं जिनको नजदीकी अस्पतालों में भेजा गया है. घायलों में से कई लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

UP में अभी हाल ही में करीब एक दर्जन लोगों की मौत सड़क दुर्घटना में हो गई थी. जिसके बाद IAS  Roshan Jacob का वीडियो काफी वायरल हुआ था. जिसमें आईएएस ऑफिसर घायलों की परेशानियों को सुनते हुए खुद भी रोने लगी थी. जिसके बाद उन्हें काफी संवेदनशील और जिम्मेदार आईएएस ऑफिसर बताया जाने लगा. लेकिन सबसे बड़ी बात यह है कि यूपी में आए दिन सड़क हादसे होते हैं आखिर इसके लिए जिम्मेदार कौन है.

ट्रैक्टर ट्रॉली और ट्रकों में भरकर लोगों को ले जाना लाना गैरकानूनी है. फिर भी यूपी सहित अन्य राज्यों में इस प्रकार की घटनाएं होती है. जिसके लिए पूरी तरह से सरकारी अमला जिम्मेदार है. लेकिन जब बड़ी दुर्घटनाएं हो जाती हैं तो सिर्फ इन घटनाओं को लेकर खानापूर्ति होती है. फिर सब कुछ वैसे ही चलने लग जाता है. इसको लेकर विपक्ष ने भी सरकार को आड़े हाथों लिया है.

आज हुई इस दुर्घटना में जैसा कि मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है, श्रद्धालु  उन्नाव के चंद्रिका देवी मंदिर से दर्शन कर ट्रैक्टर ट्रॉली में वापस अपने गांव जा रहे थे. यह दुर्घटना घाटमपुर के साढ़ और गंभीरपुर गांव के बीच हुई है. इस दुर्घटना में मरने वालों की संख्या बढ़ने की भी आशंका है क्योंकि घायलों में कई ऐसे हैं जिनकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है.

जैसे ही इस बड़ी दुर्घटना की सूचना शासन प्रशासन को मिली सभी आनन-फानन में घटनास्थल की तरफ भागे. घटनास्थल पर अभी भी पुलिस फोर्स की मौजूदगी है. वहीं इस घटना के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने भी मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त की है और मृतकों को 2-2 लाख की सहायता राशि मुहैया कराने का आश्वासन दिया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कानपुर ट्रैक्टर ट्रॉली दुर्घटना(Kanpur Tractor Trolley Accident) को लेकर गहरा दुख प्रकट किया है. साथ ही उन्होंने कहा है कि यह दुर्घटना बेहद ही तकलीफदेह है और जो जनहानि हुई है उन सभी परिवारों के प्रति मेरी पूरी संवेदना है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी दुर्घटना में जान गंवाने वाले लोगों के प्रति दुख प्रकट किया है.

वहीं कानपुर ट्रैक्टर ट्रॉली दुर्घटना को लेकर विपक्ष ने सरकार को घेरा है और सरकार से यह मांग की है कि सरकार मृतक के परिजनों को कम से कम 50 लाख की सहायता राशि मुहैया कराए. साथ ही Kanpur Road Accident के घायलों के लिए 5-5 लाख के मुआवजे की व्यवस्था करे. उत्तर प्रदेश में प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी ने सड़क दुर्घटनाओं के प्रति योगी सरकार के रवैए को बेहद ही असंवेदनशील करार दिया है.

देश