The Bharat Bandhu

Hike in Auto and Taxi Fare Delhi: दिल्ली में ऑटो और टैक्सी का सफ़र Chhath Puja में हुआ महंगा दिल्ली सरकार ने किराए बढ़ाने को दी मंजूरी

Hike in Auto And Taxi Fare Delhi

Hike in Auto And Taxi Fare Delhi: दिल्ली में ऑटो टैक्सी किराए में बढ़ोतरी Chhath Puja में आम आदमी ने आम आदमी को दिया झटका.. न्यूनतम किराया 25 से पढ़कर ₹30 पहुंचा

Hike in Auto And Taxi Fare Delhi: दिल्ली सरकार के एक फैसले ने दिल्ली में ऑटो टैक्सी का सफर अब आम आदमी के लिए महंगा कर दिया है. दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में ऑटो टैक्सी के किराए में वृद्धि को मंजूरी दे दी है. बताते चलें कि दिल्ली में सीएनजी की कीमतों में भारी वृद्धि को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है.

दिल्ली में सीएनजी का वर्तमान मूल्य ₹78 प्रति किलो है. अगर सीएनजी के दामों की तुलना साल 2020 से करें तो इस में बेतहाशा वृद्धि हुई है. जहां साल 2020 में प्रति किलो सीएनजी के दाम ₹47 थे तो अब यह ₹78 प्रति किलो है. सीएनजी के दाम बढ़ने के बाद दिल्ली के ऑटो टैक्सी  चालकों ने सरकार से किराए के बढ़ाने की मांग की थी, ऐसा कुछ मीडिया रिपोर्ट में खुलासा हुआ है.

ऑटो टेक्सी चालक संघ के सदस्य चाहते थे किराए में बढ़ोतरी की जाए जिससे उन्हें हो रहे नुकसान की भरपाई हो सके. दिल्ली सरकार ने अब दिल्ली में Auto के लिए न्यूनतम किराया यानी कि डेढ़ 1.5 km के लिए ₹25 की जगह ₹30 कर दिया है.

वही टैक्सी के किराए में भी बढ़ोतरी की गई है. एसी और नॉन एसी टैक्सी(AC And Non AC Taxi) के लिए ₹4 और ₹3 प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की गई है. मालूम हो कि दिल्ली में लगभग 9 सालों के बाद ऐसा हुआ है, जब टैक्सी के किराए में बढ़ोतरी हुई है.

इससे पहले साल 2013 में टैक्सी के किराए(Auto And Taxi Fare Delhi) में बदलाव हुए थे. वहीं अगर ऑटो के किराया की बात करें तो साल 2020 में ऑटो के किराए में बढ़ोतरी की गई थी. इस फैसले के बाद जहां एक तरफ आम आदमी की जेब ज्यादा ढीली होंगी और छठ पूजा(Chhath Puja) के दौरान लोगों को यहां-वहां आने-जाने में ज्यादा किराया चुकाना होगा. तो वहीं ऑटो चालकों जिनको की भारी नुकसान का सामना करना पड़ रहा था राहत की सांस मिलेगी.

देश