Golden temple

Golden Temple Murder Mystery: गोल्डन टेंपल में भीड़ ने युवक को पीट-पीटकर मार डाला, युवक पर गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी का आरोप

Golden Temple Murder Mystery : आज अमृतसर गोल्डन टेंपल(Golden Temple) में एक युवक को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला. युवक पर ऐसा आरोप है कि वो गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान करने की कोशिश कर रहा था.

आज अमृतसर के गोल्डन टेंपल(Golden Temple) में एक बड़ा हादसा हो गया. ऐसा बताया जा रहा है कि 24-25 साल का युवक स्वर्ण मंदिर के भीतर घुस आया और गुरु ग्रंथ साहिब की रेलिंग लांघ कर भीतर जाने की कोशिश करने लगा.

साथ ही वहां रखे श्री साहिब(तलवार) को लेने की भी कोशिश करने लगा जिसे देखकर लोगों ने उसे पकड़ लिया और उसे बाहर ले आए.

लेकिन इस घटना के बाद भीड़ बेकाबू हो गई और उस युवक को पीटने लगी. भीड़ के पीटने की वजह से युवक को गंभीर चोटें आई और युवक घटनास्थल पर ही मृत्यु को प्राप्त हो गया.

अभी तक यह जानकारी नहीं प्राप्त हो पाई है उस युवक की मानसिक स्थिति कैसी थी इसलिए अभी यह कहना सही नहीं है कि वह युवक जानबूझकर ऐसा कर रहा था या फिर उसकी मानसिक स्थिति सही नहीं थी.

अभी तक युवक की पहचान नहीं हो पाई है डीसीपी परमिंदर सिंह ने बताया है कि एक युवक की बॉडी तो मिली है लेकिन उसकी मौत कैसे हुई है यह जांच का विषय है.

इस साल ऐसी दूसरी घटना है जिसमें किसी व्यक्ति की हत्या इसलिए कर दी गई हो क्योंकि उसने गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी करने की कोशिश की थी.

इससे पहले ऐसी ही एक  घटना किसान आंदोलन के दौरान भी घटी थी. जहां पर कि एक व्यक्ति को निहंगों जान से मार डाला था. उस व्यक्ति पर भी आरोप लगे थे कि वह गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान कर रहा था.

उस मामले में निहंग सिखों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया था और कहा था कि यह आदमी गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान कर रहा था, इसलिए इसकी हत्या कर दी गई.

ऐसी घटनाएं कहीं से भी मानवीय घटना नहीं कही जाएगी क्योंकि अगर कोई व्यक्ति किसी धर्म का अपमान करता है या किसी धार्मिक पुस्तक का अपमान करता है तो उसके लिए भारत में ईशनिंदा कानून है.