Goa Bar license Case

Goa Bar license Case Updates: गोवा में बार चलाने को लेकर स्मृति ईरानी और स्मृति ईरानी की बेटी का हाई कोर्ट में पलड़ा भारी, कोर्ट ने कहा ऐसे कोई सबूत नहीं जिससे पता चले कि Bar License इनके नाम से जारी किया गया

Goa Bar license Case Updates: गोवा बार केस में कांग्रेस नेताओं की मुश्किलें बढ़ी. Delhi HC में स्मृति ईरानी(Smriti Irani) और उनकी बेटी का पलड़ा भारी, हाईकोर्ट ने कहा जानबूझकर की जा रही है बदनामी…

गोवा बार केस को लेकर स्मृति ईरानी(Smriti Irani) और उनकी बेटी को बड़ी राहत मिली है. Delhi हाईकोर्ट ने मानहानि (Goa Bar Defamation Case) के मुकदमे में जो की स्मृति ईरानी  द्वारा कांग्रेस नेताओं के खिलाफ दायर किया गया था उसमें आज Delhi हाईकोर्ट ने अहम टिप्पणी की है.

Delhi हाई कोर्ट ने साफ शब्दों में कहा कि गोवा में ना  रेस्टोरेंट ना ही बार का कोई भी लाइसेंस स्मृति ईरानी या उनकी बेटी के नाम से जारी किया गया है. और यह मामला प्रथम दृष्टया इन्हें बदनाम करने का लगता है.

हाई कोर्ट की टिप्पणी के बाद कांग्रेस नेताओं की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. क्योंकि स्मृति ईरानी ने कांग्रेस के  नेताओं जयराम रमेश, पवन खेड़ा और नेट्टा डिसूजा के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में दो करोड़ की मानहानि का मुकदमा दायर किया है. दिल्ली हाई कोर्ट ने आज साफ कहा कि ना ही जमीन और ना ही रेस्टोरेंट स्मृति ईरानी या उनकी बेटी के नाम पर है.

अब इस मामले में कानून के जानकारों का कहना है कि दो ही बातें हो सकती हैं पहली बात तो यह कि जिन नेताओं ने यह आरोप लगाए वह सशर्त माफी मांग लें या फिर उन्हें मानहानि की रकम देनी पड़ेगी.