बंधुद भारत

DELHI OXYGEN SUPPLY: दिल्ली में ऑक्सीजन की कम सप्लाई के लिए केंद्र सरकार दे रही है निर्देश ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी का कोर्ट में हलफनामा..

DELHI OXYGEN SUPPLY

DELHI में OXYGEN की कमी लगातार बनी हुई है. बीते सप्ताह से ही कई अस्पतालों से ऐसी खबरें आ रही हैं जहां कई मरीजों ने ऑक्सीजन की कमी से तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिए. प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऑक्सीजन सप्लाई से जुड़े मुद्दे को बड़े ही मुखरता से उठाया था. उन्होंने केंद्र सरकार को दिल्ली के कोटे को बढ़ाए जाने के लिए धन्यवाद भी दिया था. लेकिन अभी भी स्थिति उतनी बेहतर नहीं हुई है जितनी की हो जानी चाहिए थी.

ऑक्सीजन प्रोड्यूसर कंपनी आईनॉक्स का हाई कोर्ट में  बयान

आज एक मामले ने तब तूल पकड़ा जब ऑक्सीजन प्रोड्यूसर कंपनी आईनॉक्स ने हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान चौंकाने वाले खुलासे किए.आईनॉक्स ने यह दावा किया है कि हम दिल्ली को लगातार 105 टन ऑक्सीजन सप्लाई कर रहे थे लेकिन अब इस सप्लाई में कटौती कर दी गई है. केंद्र सरकार ने हमें आदेश दिया है कि दिल्ली को 80 टन ही सप्लाई की जाए और इस कटौती के हिस्से को उत्तर प्रदेश के लिए अलॉट कर दिया गया है. मालूम हो कि ऑक्सीजन के लिए केंद्र सरकार ने दिल्ली के कोटे को बढ़ाते हुए 490 टन कर दिया है लेकिन वर्तमान में इसमें से 335 टन ऑक्सीजन ही मिल रही है.

DELHI के CM अरविंद केजरीवाल ने बताया था कि दिल्ली को 700 टन ऑक्सीजन की जरूरत है लेकिन वर्तमान में उन्हें 335 टन के आसपास ही ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है. जो कि केंद्र सरकार द्वारा अलॉट किए गए 490 टन से भी कम है.
ऑक्सीजन को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट ने अपना रुख बहुत ही कड़ा कर रखा है. पिछले दिनों दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा था कि अगर कोई भी ऑफिसर या व्यक्ति ऑक्सीजन सप्लाई को रोकता है या बाधा पहुंचाता है तो उसको हम फांसी पर लटका देंगे. बीते दिनों आक्सीजन सप्लाई के कारण दिल्ली के सर गंगा राम अस्पताल में मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 25 लोगों की मौत हो गई थी वहीं एक अन्य अस्पताल में भी 20 लोगों की मौत हुई थी.

अरविंद केजरीवाल की घोषणा से दिल्ली वालों को बहुत बड़ी राहत

Corona के बढ़ते मामलों के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की घोषणा से दिल्ली वालों को बहुत बड़ी राहत मिली है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली सरकार, दिल्ली में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों के लिए आने वाले 1 मई से मुक्त टीकाकरण की व्यवस्था करने जा रही है जिसके लिए 1.34 करोड वैक्सीन का आर्डर दिया जा चुका है. वहीं केजरीवाल ने वैक्सीन के दाम को लेकर सवाल उठाए हैं .

बकौल केजरीवाल वैक्सीन कंपनियों को इस महामारी के दौर में मुनाफे को नहीं देखना चाहिए बल्कि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक वैक्सीन पहुंचे इस बात को ध्यान में रखना चाहिए. केजरीवाल ने कहा कि जब कंपनियां केंद्र सरकार को वैक्सीन ₹150 में उपलब्ध करा रही हैं तो फिर राज्य सरकारों को अलग कीमत पर क्यों दिया जा रहा है. मालूम हो कि सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के अदर पूनावाला ने एक टीवी इंटरव्यू के दौरान यह बात स्वीकार की थी कि डेढ़ सौ रुपए में बेचने के बाद भी उन्हें वैक्सीन पर मुनाफा हो रहा है. यहां एक बात बताना जरूरी है कि केंद्र सरकार ने वैक्सीन वितरण संबंधी नियमों में बदलाव किए हैं जिसके अंतर्गत प्राइवेट अस्पताल और राज्य सरकारें सीधे vaccine निर्माता कंपनियों से वैक्सीन को खरीद सकेंगे लेकिन इसके लिए जो दाम तय किए गए हैं वह पहले के दाम से कई गुना ज्यादा हैं.

महाराष्ट्र से एक सुखद समाचार

महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में corona के नए मामलों से ज्यादा corona को मात देकर ठीक होने वाले मरीजों की संख्या दर्ज की गई है. आज महाराष्ट्र में 48700 नए मामले आए जबकि corona को मात देने वाले मरीजों की संख्या 71736 रही. एक चिंता वाली बात यह है कि महाराष्ट्र में मौतों के आंकड़े अभी भी बरकरार हैं आज 24 घंटे में 524 लोग corona के कारण मृत्यु को प्राप्त हो गए.वहीं मुंबई में भी मामले अब कम होने लगे हैं बीते 24 घंटे में मुंबई में 3840 मरीज आए हैं और 71 कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई. महाराष्ट्र में अब सबसे अधिक मामले पुणे से आ रहे हैं जहां आज बीते 24 घंटे में 6162 नए corona संक्रमित पाए गए और 14 लोग इस महामारी की भेंट चढ़ गए. महाराष्ट्र में घटते मामलों को देखते हुए ऐसा लग रहा है कि उद्धव ठाकरे सरकार द्वारा लिया गया LOCKDOWN का निर्णय शायद अब काम कर रहा है.

 

MAHARASHTRA के NASIK में OXYGEN की कमी से मरने वालों की संख्या बढ़ी, UP MP और BIHAR करेंगे FREE VACCINATION वहीं VACCINE निर्माता कंपनियों ने दाम बढ़ाए..

 

COVID-19: कोरोना से देश की हालत गंंभीर, अब VVIP भी इसकी ज़द में…भूलोक तो भूलोक देवलोक में भी इसकी चर्चा ???