Corona Cases Updates Delhi

Corona Cases Updates Delhi: Delhi में आए 22 हजार से भी अधिक Covid-19 केस, मौतों का आंकड़ा भी लगा है बढ़ने

Corona Cases Updates Delhi: Delhi में corona के मामलों में जबरदस्त वृद्धि बीते 24 घंटे में 22 हजार से अधिक मामले दर्ज, मौतों के आंकड़ों में भी उछाल वहीं Mumbai में  मामले 19 हजार के पार

दिल्ली में बढ़ते corona मामलों पर ना तो  Night Curfew) ना Weekend Curfew और ना ही Vaccine का ही कोई खास असर दिख रहा है. बीते 24 घंटे में कोविड-19 के 22 हजार सात सौ इक्यावन नए संक्रमित पाए गए है.

वहीं अब दिल्ली में मौतों का आंकड़ा भी फिर से बढने लगा है. आज दिल्ली में 17 लोगों ने corona महामारी के कारण जान गवा दिए.

GH

Delhi Covid-19 Positivity rate: दिल्ली में corona के बढ़ते मामलों को यहां की पॉजिटिविटी रेट से समझा जा सकता है. दिल्ली में अब पॉजिटिविटी रेट 23.53% पर पहुंच गया है. जो कि बेहद ही चिंता का विषय है. यह भी बताते चलें कि दिल्ली में corona महामारी से उत्पन्न मृत्यु दर 1.62% है.

अभी तक दिल्ली में कुल 25 हजार160 लोगों की मौत corona महामारी से हो चुकी है वहीं दिल्ली में वर्तमान में सक्रिय मामलों की संख्या 60 हजार 733 पर पहुंच गई है, अच्छीबात यह है कि बीते 24 घंटे में 10 हजार 179 लोग कोरोना संक्रमण से मुक्त भी हो गए हैं.

Delhi में  corona vaccine के प्रति जागरूकता चरम पर : Corona के बढ़ते मामलों के कारण Delhi के लोगों में  corona vaccine के प्रति जागरूकता चरम पर है. बीते 24 घंटे में दिल्ली में 119334 लोगों को वैक्सीन की खुराक दी गई. जिसमें से फर्स्ट डोज लेने वालों की संख्या 77 हजार 807 है तो वहीं दूसरी डोज लेने वालों की संख्या 41 हजार 527 .

15 से 18 वर्ष के बच्चों का वैक्सीनेशन:  15 से 18 वर्ष के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन की शुरुआत 3 जनवरी से की गई थी. देश सहित दिल्ली में इस उम्र के बच्चों में वैक्सीन लेने के प्रति उत्साह को देखा जा रहा है. आज दिल्ली में 15 से 18 आयु वर्ग के 37 हजार 479 बच्चों को corona वैक्सीन की खुराक दी गई.

मालूम हो कि अभी तक दिल्ली में 15 से 18 आयु वर्ग के 2 लाख 42 हजार  244 बच्चों को corona की डोज दी जा चुकी है. 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों जिनको corona की फर्स्ट डोज दी गई है, दिल्ली में उनकी संख्या अब 1 करोड़ 58 लाख 84 हजार 206 तक पहुंच चुकी है.

वहीं सेकंड डोज लेने वालों की संख्या एक करोड़ 16 लाख 12 हजार 836 है. वैक्सीनेशन की इतनी तेज रफ्तार के बाद भी corona का इस प्रकार से बड़े पैमाने पर फैलना बेहद ही चिंता का विषय है.

लेकिन एक बात जो कि दूसरी लहर और इस लहर में अंतर पैदा करती है वह यह है कि इस बार corona की चपेट में आए हुए लोगों को अस्पताल की जरूरत कम पड़ रही है. हो सकता है इसके पीछे वैक्सीन की ताकत हो.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कहा है कि मामले बढ़ रहे हैं लेकिन लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि जो भी मामले आ रहे हैं उसमें अधिकतर सामान्य लक्षण वाले हैं.

यहां यह बताना जरूरी है कि आश्वासन परामर्श यह सब अपनी जगह सही हैं लेकिन याद रहे कि corona की दूसरी लहर के दौरान भी यह कहा जा रहा था कि दिल्लीवासियों को घबराने की जरूरत नहीं है लेकिन सभी लोगों ने देखा कि मामला किस हद तक गंभीर हो गया था.

कल मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और DDMA की बैठक है जिसमें Covid-19 से उत्पन्न खतरों के बारे में चर्चा की जाएगी साथ ही हो सकता है कि कुछ कड़े फैसले भी लिए जाएं.

कड़े फैसले के संबंध में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज मीडिया को बताया है कि अभी दिल्ली में लॉकडाउन लगाने जैसी संभावनाओं पर हम विचार नहीं कर रहे हैं.

मालूम हो कि दूसरी लहर के दौरान भी केजरीवाल द्वारा बार-बार यही कहा जा रहा था कि हम lockdown लगाने पर विचार नहीं कर रहे हैं लेकिन फिर अचानक से लॉक डाउन लगा दिया गया था.

अचानक से हुए लॉकडाउन के कारण लोगों में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया था. इसी वजह से इस बार फिर से खासकर मजदूर वर्ग दिल्ली से पलायन करने लग गए हैं.

दिल्ली से जाने वाले मजदूरों का कहना है कि पिछली बार भी केजरीवाल सरकार यह कहती रही थी कि लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा लेकिन अचानक से लॉक डाउन लागू कर दिया गया था.

एक नज़र महाराष्ट्र और मुंबई के हालात पर: महाराष्ट्र में फूटा corona बम, 44 हजार 338 नए मामले, अकेले मुंबई में दर्ज हुए उन्हें 19 हजार 474 corona के मामले, ओमी क्रोन(Omicron) के मामलों में भी वृद्धि, महाराष्ट्र में दर्ज हुए 207 Omicron के नए मरीज, कुल  मामलों की संख्या बढ़कर हुई 1216.

Subscribe The Bharat Bandhu For Latest Updates Of Covid-19 , Omicron cases in Mumbai Delhi….