Corona Cases in Delhi

Corona Cases in Delhi: दिल्ली में लग सकता है Lockdown 1 दिन में आए 10 हजार से अधिक corona के मामले

Corona Cases in Delhi: Corona के बढ़ते मामलों ने दिल्लीवासियों की चिंता बढ़ा दी है. फिर से Lockdown की संभावनाएं बढ़ने लगी हैं, दिल्ली में corona का कहर ऐसा है कि 1 दिन में 10 हजार से भी अधिक नए मामले दर्ज, मौतों का आंकड़ा भी लगा है बढ़ने, Mumbai में भी corona बेलगाम

देश की राजधानी दिल्ली में एक बार फिर से corona के मामले बेहद ही तेजी से बढ़ने लगे हैं, जिससे शासन प्रशासन से लेकर आम जनता के माथे पर चिंता की लकीरें साफ झलकने लगी हैं.

मालूम हो कि बीते 24 घंटे में दिल्ली में 10 हजार 665 corona के नए मामले दर्ज किए गए वहीं इस बीमारी से बीते 24 घंटे में 8 लोगों ने दम तोड़ दिया.

दिल्ली में corona के Positivity rate में भी बड़ा उछाल आया है. अभी वर्तमान में पॉजिटिविटी रेट 11.88% पर पहुंच गया है.

वहीं दिल्ली  में सक्रिय मरीजों की संख्या 23000 से भी अधिक हो गई है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में वर्तमान में सक्रिय मरीजों की संख्या 23 हजार 307 है.

मालूम हो कि corona के बढ़ते मामलों को लेकर दिल्ली सरकार ने School कॉलेजे  स्पा इत्यादि को पहले से ही बंद करा दिया है. साथ ही Weekend Curfew का प्रावधान भी लागू कर दिया है.

सरकारी ऑफिसों में उन्हीं कर्मचारियों को आने के लिए कहा गया है जो कि अनिवार्य सेवा से जुड़े हुए हैं. बाकी कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा गया है. प्राइवेट सेक्टर के लोगों को भी 50% क्षमता के साथ ऑफिस को संचालित करने की अनुमति दी गई है.

इतने एतिहाद के बाद भी दिल्ली में corona के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं जो कि बेहद ही चिंतनीय स्थिति है. मालूम हो कि बीते दिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी corona के चपेट में आ गए हैं.

मुंबई में भी corona बेलगाम : वहीं देश की  आर्थिक राजधानी मुंबई में भी corona बेलगाम हो चुका है. बीते 24 घंटे में corona के मामलों मे सबसे बड़ा उछाल दर्ज किया गया. मुंबई में बीते 24 घंटे में  corona के 15 हजार से भी अधिक मामले दर्ज किए गए.

देश की बात : वहीं अगर देश की बात करें तो भारत में एक दिन में 58 हजार से भी अधिक corona के मामले दर्ज किए गए. जो कि भारत के लिए बेहद ही गंभीर मसला  है.

28 जिलों में पॉजिटिविटी रेट 10% से अधिक: स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश के 28 जिलों में पॉजिटिविटी रेट तेजी से बढ़ता जा रहा है और यह रेट 10% से अधिक है जो कि खतरे का सूचक है.वहीं अगर देश में वर्तमान पॉजिटिविटी की रेट की बात करें तो यह 0.79% से बढ़कर 5.03%  पर पहुंच चुका है.

राहत की बात: अभी देश में मामले जरूर बढ़े हैं लेकिन अधिकतर संक्रमित लोगों में corona के गंभीर लक्षण देखने को नहीं मिल रहे हैं और ज्यादातर मामलों में अस्पताल जाने की जरूरत नहीं पड़ रही है.

लेकिन यह ख्याल रहे कि दूसरी लहर के दौरान भी शुरुआत में कुछ सब कुछ ऐसा ही था लेकिन अचानक से हालात हद से बाहर हो गए और देश में अफरा-तफरी का माहौल मच गया था.

Omicron  का खतरा:  देश में Omicron  का खतरा भी बढ़ता जा रहा है. जिसे देखते हुए खासकर 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों में vaccination  की रफ्तार को बढ़ा दी गई है.

वहीं आज यह भी साफ हो गया है कि 15 से 18 आयु वर्ग के कितने बच्चों को corona की डोज जाएगी, स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार 15 से 18 आयु वर्ग के 7.40 करो बच्चे हैं जिन्हें corona के डोज दी जाएगी जबकि पहले इन आंकड़ों के बारे में कहा जा रहा था कि देश में ऐसे 10 करोड़ बच्चे हैं.

स्वास्थ्य कर्मचारियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी 10 जनवरी से प्रिकॉशन डोज दी जाएगी. साथ ही बुजुर्गों को भी जिनकी उम्र 60 साल से ज्यादा है उन्हें भी प्रिकॉशन डोज देने की व्यवस्था की गई है.

अगर corona के वैश्विक प्रसार को देखें तो अमेरिका ब्रिटेन फ्रांस इटली और स्पेन इत्यादि देशों की स्थिति बेहद ही भयावह है अमेरिका में तो 1 दिन में 1000000 मामले दर्ज किए गए.