Agnipath Row

Bihar BJP vs JDU On Agnipath Row: बिहार में अग्निपथ योजना के विरोध प्रदर्शन को लेकर BJP और JDU आमने-सामने बिहार बीजेपी चीफ संजय जायसवाल ने प्रशासन पर भेद-भाव का लगाया आरोप

Bihar BJP vs JDU On Agnipath Row: बिहार में अग्निपथ की योजना को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन  के दौरान BJP नेताओं पर हो रहे हमले को लेकर बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल का शासन प्रशासन पर गंभीर आरोप, JDU ने आरोपों को बताया बेबुनियाद

बिहार(Bihar) में अग्नीपथ योजना(Agnipath Row) को लेकर सियासत तेज हो गई है. लगातार तीसरे दिन भी बिहार में अग्निपथ योजना को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है. जिसमें सरकारी संपत्तियों को काफी नुकसान पहुंच रहा है. लेकिन अब यह मामला बीजेपी Vs जदयू का हो गया है. कल बीजेपी नेता और भाजपा के अध्यक्ष संजय जायसवाल(Bihar BJP Chief Sanjay Jaiswal) के घर पर उग्र छात्रों ने तोड़फोड़ की थी. जिसके बाद से बीजेपी के नेताओं द्वारा शासन प्रशासन पर सवाल उठाए जाने लगे.

आज बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बाकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर शासन प्रशासन के दोहरे रवैए को चिंताजनक बताया .उन्होंने कहा कि शासन प्रशासन द्वारा बीजेपी के नेताओं और उनके घरों को टारगेट किया जा रहा है बीजेपी के कर्यालयों को आग के हवाले किया जा रहा है. उन्होंने मधेपुरा की घटना का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि वहां पर पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में हिंसा की घटना हुई और पुलिस प्रशासन ने कुछ भी नहीं किया.

बताते चलें कि संजय जायसवाल के घर पर  आंदोलन करने वाले छात्रों द्वारा तोड़फोड़ की घटना का CCTV वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. जिसमें यह देखा जा सकता है कि छात्र मेन गेट को तोड़कर अंदर घुसते हैं और वहां रखे सामानों को तोड़ते हैं लेकिन इसका पूरा वीडियो फुटेज नहीं मिल पाया इसके पीछे कारण है कि छात्रों ने वहां लगे सीसीटीवी कैमरों को तोड़ दिया था .वहीं BJP के आरोपों पर JDU का कहना है कि बीजेपी के आरोप पूरी तरह से निराधार हैं.

वहीं दूसरी तरफ  बिहार में तेजी से फैलती हिंसा की घटनाओं को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने बिहार के 15 जिलों में इंटरनेट सेवा(Internet Services Shutdown In 15 District In Bihar) बंद करने का फरमान जारी कर दिया है. वहीं पूर्व मध्य रेलवे(East Central Railway) ने भी हिंसा की घटनाओं को देखते हुए ट्रेनों के संचालन समय में बदलाव कर दिया है.अब ट्रेन रात्रि 8:00 बजे से लेकर सुबह 4:00 बजे तक ही बिहार के विभिन्न स्टेशनों से गुजरेंगी.

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत अग्निवीरों(Agnivir) की भर्ती को लेकर पूरे देश में बवाल मचा हुआ है. लेकिन सबसे ज्यादा प्रभावित बिहार और UP है इसके पीछे एक कारण यह भी है कि सेना में सबसे अधिक जवान यूपी से आते हैं और दूसरे नंबर पर बिहार का स्थान है. बिहार से लगभग 1.04 लाख जवान  देश की सेवा करते हैं. वहीं अगर बात यूपी की की जाए तो यूपी से सेना में 2.18 लाख जवान है.

दूसरी तरफ अग्निपथ योजना को लेकर सरकार गंभीर नजर आ रही है. सरकार ने देश के विभिन्न हिस्सों में फैली हिंसा को देखते हुए अग्निपथ योजना में बहुत सारे बदलाव किए हैं. सरकार ने सबसे पहला बदलाव अग्नीपथ योजना में अभ्यर्थियों की उम्र को लेकर की है. पहले इसमें अभ्यर्थी 21 साल तक है भाग ले सकते थे लेकिन अब इस योजना के अंतर्गत 23 साल तक के युवा भर्ती हो सकते हैं. आज गृह मंत्रालय(Home Ministry) ने भी  अग्निवीरों के लिए, जब वह 4 साल बाद रिटायर होकर वापस आएंगे तो 10% आरक्षण की बात कही है.

द भारत बंधु  Agnipath योजना के विरोध में आंदोलन कर रहे भावी अग्निवीरों से अपील: हिंसक आंदोलन से आप की समस्याएं सुलझने के बजाय और उलझ जाएंगी. साथ ही आप जिस सेवा में जाना चाह रहे हैं उसके लिए आप अयोग्य भी घोषित हो सकते हैं. इसलिए हिंसा का रास्ता छोड़ शांतिपूर्ण प्रदर्शन का रास्ता चुने. अगर आप को सरकार तक अपनी बात पहुंचानी है तो इसके लिए हम सभी आपके साथ हैं. आप अपना संदेश हमें भेज सकते हैं. हम सदैव आपके सहयोग के लिए तत्पर हैं और रहेंगे “भारत बंधु टीम”.. mail@thebharatbandhu.com हमारा वाट्सएप नंबर है.. 08502001477