Begusarai Firing Incident Accused Arrested

Begusarai Firing Incident Accused Arrested: बेगूसराय गोली कांड के अभियुक्त चढ़ा पुलिस के हत्थे

Begusarai Firing Incident Accused Arrested: बेगूसराय गोली कांड का मुख्य अभियुक्त केशव उर्फ नागा को पुलिस ने किया गिरफ्तार आज दोपहर पुलिस कर सकती है इस मामले का खुलासा..

Bihar Begusarai:बेगूसराय गोली कांड को लेकर बिहार पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है. सूत्रों के हवाले से यह खबर सामने आई है कि बेगूसराय गोली कांड का मुख्य अभियुक्त केशव उर्फ नागा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

CCTV मिकाइल एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें बेगूसराय गोलीकांड का मुख्य अभियुक्त के सब उर्फ नागा एक ढाबे पर बैठा दिख रहा है पुलिस ने अभी इस संबंध में किसी प्रकार की जानकारी नहीं दी है.

लेकिन मीडिया रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि बेगूसराय गोलीकांड के चारों अभियुक्तों पर पुलिस का शिकंजा कस चुका है बताते चलें कि बीते 14 सितंबर को बेगूसराय में शाम 5:00 बजे के करीब चार बाइक सवार पेशेवर अपराधियों ने सड़क पर ताबड़तोड़ फायरिंग की थी जिसमें एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी और 9 के करीब लोग घायल हो गए थे.

इस घटना के बाद बिहार में कानून व्यवस्था को लेकर सरकार पर उंगलियां उठने शुरू हो गई थी बेगूसराय के स्थानीय सांसद और मंत्री गिरिराज सिंह ने बिहार सरकार को आड़े हाथों लिया था और बेगूसराय बंद का आह्वान भी किया था.

वहीं इस घटना के बाद नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करते प्लीज साफ कहा था कि पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है और जल्द ही आरोपियों पर कार्यवाही होगी साथ ही नीतीश कुमार ने यह भी आगाह किया था कि पुलिस प्रशासन को बेहद ही सतर्क होना होगा क्योंकि जब ऐसी घटना हुई है तो फिर से इसकी पुनरावृति हो सकती है.

वही मीडिया से बातचीत में अपराधियों को लेकर और घायल होने वाले लोगों को लेकर नीतीश कुमार ने कुछ जातिगत टिप्पणी की थी जिसके बाद नीतीश कुमार विपक्ष के निशाने पर आ गए थे नीतीश कुमार ने कहा था कि जिन लोगों पर हमला किया गया है वह दलित समुदाय से हैं और सड़क के उस पार मुस्लिम समुदाय के लोग हैं और इन्हीं लोगों को निशाना बनाकर हमला किया गया.

अब देखना यह है कि इस मामले को लेकर आज दोपहर पुलिस क्या बड़ा खुलासा करती है. अब पुलिस ही यह बताएगी कि यह बेगूसराय गोलीकांड सुनियोजित तरीके से किया गया था या फिर अपराधियों ने लोगों के दिल में खौफ पैदा करने के लिए इस घटना को अंजाम दिया था.

वैसे ही जिस प्रकार से अपराधियों ने लगभग 30 किलोमीटर के दायरे में गोलीबारी की और कई राह चलते लोग जो सामान्य लोग थे उन पर हमला किया गया उससे यह बात तो साफ जाहिर है कि यह अपराध ही पेशेवर अपराधी हैं. वैसे भी इन दिनों बिहार की कानून व्यवस्था को लेकर सरकार निशाने पर है.