6G technology

6G technology से होगा भारत का विकास, 20GB प्रति सेकंड होगी Internet Speed, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(AI) होंगे बेहतर

6G technology से होगा अब देश का विकास 20GB प्रति सेकेंड Internet speed से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(AI), इमेज को लोड करने से लेकर लाइव लोकेशन तक सब हो जाएंगे बेहतर.

6G technology के सभी उपकरणों पर स्वदेशी छाप

केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव ने बताया कि 6G technology पर काम की शुरुआत हो चुकी है और इस तकनीक के लिए जो भी उपकरण इस्तेमाल में लिए जाएंगे वह सभी उपकरण भारत में निर्मित होंगे.

यानी इस तकनीक पर स्वदेशी छाप होगा. इस प्रकार कहा जा सकता है कि भारत सरकार 6G टेक्नोलॉजी के जरिए अपने मेक इन इंडिया कार्यक्रम को भी मजबूती प्रदान करेगी.

भारत में 6G कब तक आने की है संभावना

केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव के अनुसार साल 2023 या फिर साल 2024 की शुरूआत तक भारत में 6G टेक्नोलॉजी को भारत में लॉन्च किया जा सकता है.

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि इससे संबंधित सॉफ्टवेयर पर काम अभी चल रहा है और ऐसा अनुमान है कि इसे अगले साल तक तैयार कर लिया जाएगा.

केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव ने जोर देते हुए कहा कि 6-G टेक्नोलॉजी के सभी उपकरण भारत में निर्मित होंगे.

मालूम हो कि अगर 6G टेक्नोलॉजी भारत में लॉन्च होती है तो यह भारत के लिए बड़ी बात होगी. क्योंकि अभी भारत में 5G पर भी पूरी तरह से काम शुरू नहीं हुआ है.

6G से क्या होगा फायदा कौन सी सेवाएं हो जाएंगी पहले से बेहतर

इस तकनीक के आने केकॉ बाद बहुत सारी सेवाएं पहले से बेहतर हो जाएंगी. 6G technology के हाई फ्रिकवेंसी की वजह से इंटरनेट स्पीड 20GB प्रति सेकंड तक पहुंच जाएगी.

इंटरनेट स्पीड हाई होने से  इमेज प्रोसेसिंग, लाइव लोकेशन,आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इत्यादि पहले के मुकाबले बेहतर तरीके से काम करने लगेंगे.