IFFI 2022

IFFI 2022 में The Kashmir Files को दिखाए जाने पर जुरी हेड हुए नाराज़ कहा ये फिल्म प्रोपेगेंडा पर आधारित

Share

IFFI 2022  में The Kashmir Files पर मचा बवाल सरकार के मंत्री की उपस्थिति में जूरी हेड ने इस फिल्म पर जताया ऐतराज  कहा ये सिर्फ प्रोपेगेंडा पर आधारित.. द कश्मीर फाईल्स को अश्लील भी बताया 

International Film Festival India(IFFI 2022) के समापन समारोह के दौरान The Kashmir Files फिल्म को लेकर कुछ ऐसा हो गया जिसकी उम्मीद शायद ही किसी को थी. इस फिल्म को IFF Goa में दिखाया गया और सभी को उम्मीद थी इस फिल्म को Film Fest Goa में  जूरी द्वारा सराहा जाएगा, लेकिन हुआ ठीक इसके उलट.

इजराइली फिल्म निर्माता और 53rd IFFI 2022  के जूरी हेड ने द कश्मीर फाईल्स(The Kashmir Files) को  एक दुष्प्रचार वाली फिल्म कहा. इस फिल्म की निंदा करते हुए इसे अश्लील फिल्म भी कहा. उन्होंने इस फिल्म को IFFI 20022 में दिखाए जाने को लेकर भी हैरानी जताई. जुरी हेड नदव लापिड ने इस फिल्म को वल्गर बतलाते हुए कहा कि इस प्र्कार की  फिल्में एक बेहद ही पोपुलर और सम्मानित फिल्म फेस्टिवल के  कलात्मकता और प्रतिस्पर्धा के लिए सही नहीं है और इस प्रकार के कार्यों से बचा जाना चाहिए, क्योंकि इससे ऐसे आयोजनों की गरिमा प्रभावित होती है.

Watch Viral Video: इस वीडियो में देखिए IFFI 2022 जूरी हेड का कश्मीर फाईल्स पर दिया गया बयान…

340 करोड रुपए कमाने का दावा करने वाली फिल्म को लेकर जूरी प्रमुख और इजराइली फिल्म निर्माता नदव लापिड की बातों को सुनकर व्हां उपस्थित सभी लोग हैरान थे. कश्मीर फाइल्स पर जब जुरी हेड लापिड अपनी बात कह रहे थे उस समय वहां  भारत सरकार में मंत्री भी  मौजूद थे. इस कार्यक्र्म का आयोजन भारत सरकार द्वारा करवाया जाता है.

द कश्मीर फाईल्स पर जूरी हेड की आलोचना पर अब प्र्तिक्रियाएं भी आनी शुरु हो गई हैंं.PDP के प्रवक्ता मोहित भान ने  द कश्मीर फाईल्स को  नफरत फैलाने के इरादे से बनाई गयी फिल्म करार दिया है. वहीं अब जुरी हेड द्वारा दिए गए बयान का विरोध भी शुरु हो गया है.विरोध करने वालों का कहना है इस फिल्म में कुछ भी गलत नही दिखाया गया है बल्की जो सच्चाई इतने दिनों से छुपाई जा रही थी उसको उजागर किया गया जो की बेहद ही जरूरी था.

Scroll to Top