Murder Case

Builder Sanjay Biyani Murder Case: महाराष्ट्र के नांदेड़ में नामी बिल्डर संजय बियानी को नकाबपोश अपराधियों ने घर के सामने गोलियों से किया छलनी, पूरे इलाके में दहशत

Builder Sanjay Biyani Murder Case: महाराष्ट्र के नांदेड़ में नामी बिल्डर संजय बियानी को नकाबपोश हत्यारों ने गोलियों से भूना हुई मौत, पूरा हादसा CCTV में कैद, ED ने संजय रावत और सत्येंद्र जैन के रिश्तेदारों पर कसा शिकंजा

महाराष्ट्र(Maharashtra) के नांदेड़(Nanded) में अपराधियों ने दिनदहाड़े नामी बिल्डर संजय बियानी (Sanjay Biyani)की गोली मारकर हत्या कर दी. इस घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल है.

संयोग से संजय बियानी की हत्या (Sanjay Biyani Murder Case) की पूरी घटना CCTV में रिकॉर्ड हो गई.लेकिन जितने भी हमलावर थे उन्होंने अपने चेहरे नकाब से छिपा रखे थे.जिस कारण हत्यारों की पहचान स्पष्ट नहीं हो पा रही है.

हत्या की यह घटना नांदेड के आनंद नगर(Anand Nagar) इलाके की है. जहां के बिल्डर संजय बियानी का आवास है. जिस वक्त संजय बियानी पर हमला हुआ वह अपने घर के बाहर ही खड़े थे.

संजय बियानी की हत्या के कारणों के बारे में अभी स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कहा जा सकता. लेकिन चुकी बियानी एक बड़े बिल्डर थे और राजनीतिक गलियारे में भी अच्छी पकड़ रखते थे. इस कारण उनकी हत्या के पीछे फिरौती या फिर व्यापारिक प्रतिस्पर्धा का मामला हो सकता है.

पुलिस द्वारा इस हत्याकांड के बारे में अभी स्पष्ट रूप से कुछ भी नहीं कहा गया है. लेकिन पुलिस यह मान कर चल रही है कि हत्या के तरीकों से यह लग रहा है कि इस हत्याकांड को पेशेवर अपराधियों ने अंजाम दिया है.

ED ने संजय रावत के रिश्तेदारों पर कसा शिकंजा: दूसरी तरफ महाराष्ट्र से ही एक और बड़ी खबर सामने आई है. उद्धव ठाकरे के चहेते और शिवसेना नेता संजय राउत के रिश्तेदारों की संपत्तियों को ईडी द्वारा कुर्की जब्ती की गई है. जिसके बाद महाराष्ट्र में सियासी पारा गरम हो गया है.

ईडी द्वारा की गई कार्रवाई के बाद तेजतर्रार नेता संजय रावत ने एक ट्वीट किया है. जिसमें उन्होंने लिखा है और असत्यमेव जयते. बताते चलें कि कुछ दिन पहले ही महाराष्ट्र के एक और बड़े नेता नवाब मलिक पर भी कानून का शिकंजा कसा था.

ED की कार्यवाही से जुड़ी एक और घटना है. जिसमें दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के रिश्तेदारों की संपत्तियों की भी कुर्की जब्ती की गई है. बताते चलें कि कुछ दिन पहले ही अरविंद केजरीवाल ने स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा था और कहा था कि पंजाब की जीत के बाद निश्चित तौर पर सत्येंद्र जैन पर कार्यवाही हो सकती है.

जहां विपक्ष द्वारा इस कार्यवाही को केंद्र सरकार द्वारा सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग बताया जा रहा है तो वहीं बीजेपी का कहना है कि मोदी राज में भ्रष्टाचार को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगा.अभी दिल्ली में MCD के एकीकरण को लेकर भी आम आदमी पार्टी और BJP आमने सामने है. बताते चलेंं की दिल्ली नगर निगम को एक करने वाले विधेयक को राज्यसभा द्वारा भी पास कर दिया गया है.