Y Category Security

Y Category Security For Karnataka Judges: हिजाब मामले पर दिया था फैसला अब जजों को मिल रही हैं धमकियां सरकार ने प्रदान की Y Category की सुरक्षा

Y Category Security For Karnataka Judges: हिजाब विवाद के फैसले में शामिल तीनों जजों की सुरक्षा बढ़ाई गई जान से मारने की धमकी वाले वीडियो के बाद Y Category की सुरक्षा

कर्नाटक में हिजाब विवाद(Hijab Controversy) को लेकर एक गंभीर बात सामने आई है. मामला हिजाब विवाद पर अपना फैसला सुनाने वाले कर्नाटक हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस समेत तीनों जजों की सुरक्षा से संबंधित है.

कर्नाटक हाई कोर्ट के एक वकील को व्हाट्सएप पर एक वीडियो मिला था जिसमें हिजाब विवाद पर फैसला सुनाने वाले जजों को जान से मारने की धमकी दी जा रही थी साथ ही इस वीडियो में झारखंड में हुए जज की हत्या का भी उल्लेख किया गया था.

वीडियो में कहा जा रहा था कि पता है मॉर्निंग वॉक करने कहां जाते हैं  वीडियो की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए इस वकील ने इसकी शिकायत हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार से कि जिसके बाद मामले को लेकर f.i.r. दर्ज कर ली गई है.

वहीं इस घटना पर संज्ञान लेते हुए कर्नाटक सरकार ने कर्नाटक हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश सहित हिजाब विवाद पर फैसला देने में शामिल तीनों जजों को Y- कैटेगरी की सुरक्षा (Y Category Security)प्रदान करने के निर्देश दे दिए हैं साथ ही पुलिस को अतिरिक्त सर्तकता बरतने के भी निर्देश दिए गए हैं.

बताते चलें कि कर्नाटक की मुस्लिम छात्राओं के एक समूह ने  स्कूल कालेज में हिजाब पहनकर जाने से रोके जाने पर कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी और यह कहा था कि इस्लाम में हिजाब पहनना अनिवार्य है और उन्हें हिजाब पहनकर स्कूल में जाने की अनुमति दी जाए.

हाई कोर्ट में याचिका दायर करने वाली छात्राओं का कहना था कि हिजाब पहनना उनका धार्मिक अधिकार है क्योंकि इस्लाम में हिजाब पहनना अनिवार्य है.

इस मामले पर हाईकोर्ट में कई दिनों तक सुनवाई हुई और अंत का हाई कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया. जिसमें हाई कोर्ट ने साक्ष्यों के आधार पर यह माना के हिजाब इस्लाम का अनिवार्य अंग नहीं है और तीनों जजों ने आठ छात्राओं द्वारा दायर याचिका को खारिज कर दिया.

छात्राओं द्वारा दायर याचिका को  खारिज करने के फैसले में जजों ने यह भी कहा कि स्कूल द्वारा तय किए गए यूनिफॉर्म को छात्र-छात्राओं द्वारा पहनने से इनकार नहीं किया जा सकता साथ ही जजों ने यह भी कहा कि शैक्षणिक संस्थानों को अपनी यूनिफॉर्म तय करने का अधिकार है.

गौरतलब है कि बीते दिनों कश्मीर फाइल फिल्म(The Kashmir Files) के निर्देशक विवेक अग्निहोत्री को भी केंद्र सरकार द्वारा हवाई कैटेगरी की सुरक्षा(Y Category Security) प्रदान की गई है. इससे पहले अभिनेत्री कंगना राणावत को भी केंद्र सरकार द्वारा Y कैटेगरी की सुरक्षा दी गई थी.