Shatrughan Sinha

Shatrughan Sinha And Babul Supriyo Lucky For TMC: बिहारी बाबू ने बंगाल का दिल जीता BJP को आसनसोल से 2.5 से भी अधिक वोट से दी मात बिहार और महाराष्ट्र में भी भारतीय जनता पार्टी को झटका

Shatrughan Sinha And Babul Supriyo Lucky For TMC:बंगाल उपचुनाव (Bengal Bypolls) के नतीजे में TMC का कमाल बिहारी बाबू पर आसनसोल(Asansol) की जनता फ़िदा, बाबुल सुप्रियो ने भी जीत दर्ज की बिहार में भी RJD बीजेपी पर भारी, महाराष्ट्र में कांग्रेस की बल्ले-बल्ले

बंगाल, बिहार और महाराष्ट्र में उपचुनाव(Bypolls Result) के नतीजे आ गए हैं. सबसे ज्यादा चौंकाने वाला नतीजा बंगाल(Bengal  Bypolls Results) से आया है जहां बिहारी बाबू(Bihari Babu) कहे जाने वाले शत्रुघ्न सिन्हा(Shatrughan Sinha) ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बीजेपी की अग्निमित्रा को 2.5 लाख से भी अधिक मतों से हराया है.

बीजेपी के लिए यह सीट  विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद संजीविनी की तरह काम कर सकती थी लेकिन बीजेपी को यहां तगड़ा झटका लगा है. बीजेपी ने बाहरी का मुद्दा उठाया था. जिसे आसनसोल की जनता ने एक सिरे से नकार दिया.बताते चलें कि आसनसोल सीट पहले बीजेपी के खाते में ही थी. यहां से हाल में ही बीजेपी छोड़ TMC में शामिल हुए बाबुल सुप्रियो सांसद थे.

दूसरी तरफ पहले टीएमसी से बीजेपी में गए और फिर बीजेपी से TMC में वापस आए पूर्व मंत्री बाबुल सुप्रियो ने भी बालीगंज सीट से जीत दर्ज की है. बाबुल सुप्रियो ने पिछले साल ही आसनसोल लोकसभा सीट से इस्तीफा दिया था.

बिहार(Bihar) से भी बीजेपी के लिए निराश करने वाली खबर सामने आई है. यहां बोचहां विधानसभा सीट से RJD के प्रत्याशी अमर पासवान ने बड़ी जीत दर्ज की है. अमर पासवान ने बीजेपी की बेबी कुमारी को 36000 से भी अधिक वोटों से पराजित किया है.

महाराष्ट्र से कांग्रेस पार्टी के लिए अच्छी खबर है. यहां कोल्हापुर उत्तर विधानसभा सीट पर कांग्रेस के प्रत्याशी जय श्री जाधव ने बीजेपी के प्रत्याशी को 19 हजार मतों से परास्त किया है. यहां बीजेपी के प्रत्याशी के रूप में सत्यजीत कदम चुनावी मैदान में थे.

छत्तीसगढ़ से भी कांग्रेस प्रत्याशी आगे चल रहे हैं. कुल मिलाकर इस उपचुनाव के नतीजे यही दर्शाते हैं कि अगर बिहार को छोड़ दें तो सत्ताधारी पार्टी के ही प्रत्याशी चुनावी मैदान में कामयाब हुए हैं.

उपचुनाव के नतीजे अभी कुछ दिन पहले ही संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों से भिन्न हैं .हाल में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने जबरदस्त प्रदर्शन किया था इसलिए ऐसा कहा जा सकता है कि उपचुनाव के नतीजे बीजेपी के लिए खतरे की घंटी हो सकती है..