Patna Sahib Gurdwara Fake Jewellery Case

Patna Sahib Gurdwara Fake Jewellery Case: पटना साहिब गुरुद्वारा 5 करोड़ के नकली जेवर का मामला..

Patna Sahib Gurdwara Fake Jewellery Case: पटना साहिब गुरुद्वारे में 5 करोड़ के नकली जेवर चढ़ाने का मामला सामने आने पर मचा हड़कंप.. आरोपी पंजाब का रहने वाला..

पटना सिटी(Patna City Gurdwara) स्थित गुरुद्वारे से एक हैरतअंगेज घटना सामने आई है. जिसमें पंजाब के रहने वाले एक शख्स ने हजार या लाख के नहीं बल्कि 50000000 का जेवर चढ़ाया था. इतनी अधिक कीमत के जेवर चढ़ाए जाने के कारण मामला सुर्खियों में आ गया था.

ये जेवर डॉक्टर सामरा नामक शख्स ने जो कि पंजाब के रहने वाले हैं 1 जनवरी 2022 को पटना साहिब स्थित गुरुद्वारे में चढ़ाया था. मालूम हो कि पटना साहिब का गुरुद्वारा सिखों के गुरु गोविंद सिंह का जन्म स्थल है. इस कारण इस गुरुद्वारे की महत्ता सिख  समुदाय में बहुत ज्यादा है.

जो जेवर डॉक्टर सामरा द्वारा जनवरी 2022 में चढ़ाए गए थे उसमें हीरे जवाहरात से बने सोने के हार सोने की कृपाण कलगी और सोने से बनी छोटी पलंग भी शामिल हैं. 5 करोड़ की रकम कोई छोटी रकम नहीं होती जब यह भेंट गुरुद्वारे में चढ़ाई गई थी उसी समय सिख संगतों को इस भेंट को लेकर शक हुआ. जिसके तुरंत बाद पटना साहिब गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के विरोधी गुट द्वारा इस पर सवाल उठाए जाने लगे थे.

जब इस मामले ने तूल पकड़ा तो तख्त श्री हरी मंदिर प्रबंधक कमेटी के तत्कालीन अध्यक्ष स्वर्गीय अवतार सिंह ने यह निर्देश दिया कि जिन सामानों को 1 जनवरी 2022 को डॉ सामरा द्वारा पटना साहिब गुरुद्वारा में चढ़ाया गया है उसकी जांच कराई जाए.

जब डॉक्टर सामरा द्वारा चढ़ाई गए जेवरों की जांच की गई तो जांच में चौंकाने वाले नतीजे आए. यह सामने आया कि जो जेवर हैं उसमें सोने की शुद्धता बहुत ही कम है. वहीं जब शुद्धता पर सवाल खड़ा हुए तो जेवर चढाने वाले शख्स  सामरा ने इसका सारा ठीकरा जत्थेदार ज्ञानी रंजीत सिंह गोहर ए मसकीन पर फोड़ा और कहा कि सारे जेवरों का निर्माण उनकी ही निगरानी में कराए गए हैं. इसके तुरंत बाद गुरुद्वारा के द्वारा  FIR दर्ज कराई गई.

वहीं दान देने वाले शक्स गुरविंदर सिंह सामरा को तख्त श्री हरमंदिर जी पटना साहिब की गरिमा को ठेस पहुंचाने पर पंच प्यारों ने एक बड़ी कार्रवाई की . डॉक्टर सामरा को पंच प्यारों ने जो फरमान सुनाया है उसमें डॉक्टर सामरा को 3 दिनों तक गुरुद्वारे में बर्तन धोना होगा साथ ही जूता घर में अपनी सेवा देनी होगी.

जब से यह मामला उजागर हुआ है तब से पटना ही नहीं बल्कि पूरे देश में यह चर्चा का विषय बन गया है. क्योंकि यह अपनी तरह का एक दुर्लभ मामला है. गुरुद्वारे में इस प्रकार की घटना कम ही देखने को मिलती है, क्योंकि गुरुद्वारे के प्रति सिख समुदाय ही नहीं बल्कि भारत के किसी भी समुदाय वर्ग में बड़ी ही आस्था है.

दूसरी तरफ बिहार से ही एक और आपराधिक मामला सामने आया है जिसने सबको चौका दिया है. यह मामला बेगुसराय का है जहां एक अपराधी ने राह चलते लोगों पर गोली चलाया जिसमें करीब 12 लोगों के घायल होने की सूचना है साथ ही एक आदमी की मौत की भी खबर है.