new corona variant pm modi omicron

New Corona Variant: PM Modi ने बुलाई आपात बैठक, corona के नए वेरिएंट B.1.1.529 जिसे WHO ने Omicron नाम दिया है उससे निपटने की तैयारी पर लिए जा सकते हैं बड़े फैसले कैबिनेट सेक्रेटरी से लेकर नीति आयोग के सदस्य मीटिंग में रहेंगे मौजूद

New Corona Variant: आज PM Modi कोविड-19 के नए वैरिएंट B.1.1.529 जिसे WHO ने Variant Of Concern करार देते हुए नया नाम Omicron दिया है. इस पर चर्चा के लिए इमरजेंसी मीटिंग बुलाई गई है.

मालूम हो कि शुक्रवार को WHO ने New Corona Variant Omicron जिसको लेकर अब ऐसा कहा जाने लगा है कि यह बेहद ही घातक हो सकता है, अगर इसके बारे में जल्द ही पूरी जानकारी नहीं जुटाई गई. उसे वैरीअंट ऑफ कंसर्न बतलाया है.उसके बाद PM Modi ने  इमरजेंसी मीटिंग की.

कोविड-19 के न्यू वेरिएंट और साथ ही कोविड-19 पर भारत की तैयारी कैसी है आज पीएम मोदी ने इन सब बातों का जायजा लेने के लिए एक इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है.

इस मीटिंग में कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के साथ-साथ प्रधानमंत्री के प्रिंसिपल सेक्रेटरी पीके मिश्रा भी उपस्थित रहेंगे.साथ ही सेंट्रल सेक्रेटरी राजेश भूषण और नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके गोपाल भी इस मीटिंग में शिरकत करेंगे.

WHO ने corona के New Variant, Omicron के असर के बारे में अभी कुछ साफ नहीं कहा है लेकिन इसे Variant Of Concern कहा जाना बड़ी बात

मालूम हो कि corona के इस वैरीएंट(Omicron) का कितना असर होगा इस पर अभी WHO ने कुछ साफ नहीं कहा है. डब्ल्यूएचओ का कहना है कि जब तक इस पर और भी बहुत सारी जानकारियां इकट्ठा नहीं हो जाती है तब तक कुछ भी कहना सही नहीं है.

लेकिन कल डब्ल्यूएचओ ने एक इमरजेंसी मीटिंग बुलाकर वायरस के इस वैरीअंट को वैरीअंट ऑफ कंसर्न कहा है जिसके बाद से दुनिया की सभी सरकारें सकते में आ गई हैं.

भारत में अभी कोविड-19 का क्या है हाल, जाने आंकड़ों में

अगर भारत में कोरोना के मामले की बात करें तो बीते गुरुवार को भारत में corona महामारी से 488 लोगों की मौत हो गई.इन मौतों में सबसे अधिक केरल में दर्ज किए गए हैं.

अगर भारत में सक्रिय मामलों की बात करें तो बृहस्पतिवार तक सक्रिय मामलों की संख्या 1,10,133 थे. अगर वृद्धि की बात करें तो 1 दिन पहले यानी बुधवार की तुलना में यह संख्या 0.32% अधिक है.

वैसे तो भारत में लगातार मामले कम आ रहे हैं.लेकिन जिस प्रकार से विश्व में corona के मामले फिर से एक बार बढ़ने लगे हैं उसे देखकर भारत में भी वैक्सीनेशन और corona प्रोटोकॉल पर सख्त कदम उठाए जा सकते हैं.

विश्व में फिर corona बढ़ा रहा है अपना प्रभाव जर्मनी फ्रांस इटली की स्थिति गंभीर

अगर विश्व की बात करें तो फ्रांस इटली जर्मनी जैसे देशों में corona के मामले फिर से एक बार बढ़ने लगे हैं. जर्मनी में एक दिन में लगभग 74 हजार के करीब मामले आए तो वहीं इटली में 12 हजार से अधिक तो फ्रांस में 32 हजार से भी ज्यादा मामले एक दिन में दर्ज किए गए, जो की चिंता का विषय है.

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को सरकार दिसंबर से खोलना चाह रही है लेकिन corona के इस नए वैरीअंट के आ जाने के बाद और विश्व में corona के मामले बढ़ने के कारण लग रहा है अभी वैश्विक उड़ानों पर सरकार जल्दबाजी नहीं करेगी.

इंटरनेशनल फ्लाइट और स्कूल कॉलेजों पर क्या हो सकता है corona के इस नए वेरिएंट के आने के बाद असर

Corona के नए वेरिएंट को देखते हुए भारत सरकार ने देश के सभी एयरपोर्ट पर विदेशों से आने वाले लोगों खासकर फ्रांस हॉन्ग पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए हैं.

दिल्ली में भी पोलूशन के कारण सभी स्कूल कॉलेज बंद है. सरकार की पूर्व घोषणा के अनुसार आने वाले सोमवार से इसे खोला जा सकता है. लेकिन अब corona के इस वैरीअंट को देखने के बाद लगता है सरकार जल्द ही कोई बड़ा निर्णय ले सकती है.

वहीं दिल्ली में अभी भी पोलूशन पर कोई खास असर नहीं पड़ा है सरकार ने पोलूशन पर कंट्रोल करने के लिए कुछ दिनों के लिए दिल्ली में सिर्फ सीएनजी और इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रवेश की ही अनुमति दी है.