पुरसूरज

LOCKDOWN में लड़का घर से निकला था दवाई लाने लेकिन DM और POLICE ने CORONA PROTOCOL के नाम पर कुछ ऐसा किया कि सरकार को तत्काल प्रभाव से डीएम को हटाना पड़ा

CORONA के कारण भारत के विभिन्न राज्यों में LOCKDOWN लगाया गया है.

ऐसा इस लिए किया गया है कि इससे कोविड-19 के मामलों पर लगाम लगाया जा सके.

लेकिन पद के गुरुर में कुछ अफसर इस बात को भूल जाते हैं कि उनको ये पद जनता की सुविधा के लिये दिया गया है ना की जनता को परेशान और अपमानित करने के लिए.

कभी-कभी देश में कुछ चीजें ऐसी हो जाती हैं जिसे देखकर लगता है कि हम अभी भी आजाद भारत में नहीं बल्कि गुलामी के दौर में जी रहे हैं.

ताजा घटनाक्रम छत्तीसगढ़ के सूरजपुर से है यहां के डीएम साहब चेकिंग के दौरान अपना आपा खो बैठे.

यहां के डीएम ने लॉकडाउन उल्लंघन के नाम पर पहले तो लड़के के मोबाइल को तोड़ा फिर उस पर लगातार तमाचों की बरसात कर दी.

डीएम के साथ मौजूद पुलिसकर्मियों ने भी उसे डंडों से पीटा और यह सब होता रहा और जिन पर लोकतंत्र को बचाने और विधि व्यवस्था बरकरार रखने की जिम्मेदारी थी वही लोग इस घटना को अंजाम देते रहे.

इसे भी पढ़ें.

क्या आपको यह रिपोर्ट पसंद आई? हमें आपका अमूल्य सहयोग चाहिए. हमारे द्वारा प्रकाशित खबरों को ज्यादा से ज्यादा facebook whatsapp Twitter इत्यादि social media प्लेटफार्म पर साझा करें. खुद भी जागरूक रहें और समाज को भी जागरूक रखें.

किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए या फिर आपके पास भी कोई खब़र या जानकारी हो तो हमें ईमेल करें..

mail.thebharatbandhu@gmail.com या हमारे whatsapp नंबर 8502001477 पर message करें