Lakhimpur Kheri Two Minor Sisters Rape and Murder Case

Lakhimpur Kheri Two Minor Sisters Rape and Murder Case: UP लखीमपुर खीरी दो सगी बहनों से बलात्कार और हत्या मामले में बड़ा खुलासा..

Lakhimpur Kheri Two Minor Sisters Rape and Murder Case:लखीमपुर खीरी में दो सगी बहनों से बलात्कार करने के बाद हत्या कर लाश को पेड़ से लटकाया, सभी आरोपी पुलिस हिरासत में एक को इनकाउंटर के बाद पुलिस ने पकड़ा..

लखीमपुर खीरी से एक बार फिर एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. जहां दरिंदों ने दरिंदगी की हद पार करते हुए दो नाबालिग सगी बहनों से पहले तो बलात्कार किया उसके बाद उनकी लाशें पेड़ पर टांग दी.

लखीमपुर के पुलिस कप्तान संजीव सुमन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरे मामले की जानकारी दी. संजीव सुमन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि इस घटना में 6 लोग आरोपी बनाए गए हैं. इन आरोपियों के नाम छोटू पिता चेतराम गौतम, सुहेल, जुनेद, करीमुद्दीन, हाफिजुर रहमान और आरिफ  है. यह सभी 6 आरोपी पुलिस की हिरासत में है.

लखीमपुर खीरी के एसपी संजीव सुमन ने यह भी बताया कि आरोपी दोपहर के वक्त गांव में आए थे और दोनों सगी बहनों को जिनकी बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई है उन्हें यह आरोपी खेत में ले गए और खेत में ही इनके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाए गए. उसके बाद आरोपियों ने इनकी चुन्नी से इनकी हत्या कर दी. पुलिस के अनुसार आरोपियों ने यह भी बताया है कि लड़कियां शादी के लिए जिद कर रही थी. जिसके बाद इन लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया.

आरोपियों के अनुसार जुनेद सुहेल और हफीजुल  घटना के वक्त खेत में मौजूद थे जबकि अन्य दो लोगों करीमुद्दीन और आरीफ को बाद में बुलाया गया था. आरोपियों में छोटू जिसके पिता का नाम चेतराम गौतम है उसके बारे में पुलिस ने यह बताया है कि नाबालिक लड़कियों से इन आरोपियों की जान पहचान कराने में इसी ने मदद की थी. पुलिस ने यह जोर देते हुए कहा है कि छोटू घटना के वक्त मौजूद नहीं था.

आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि एक आरोपी जिसका नाम जुनैद है उसे पैर में गोली लगी है यह गोली इन काउंटर के दौरान लगी. वहीं इस घटना के बाद विपक्ष ने योगी सरकार की बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर आड़े हाथों लिया है.

समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने तो यहां तक कहा कि यह  बेहद गंभीर मामला है कि जिन दो बहनों की बलात्कार के बाद हत्या की गई है उनके पिता ने पंचनामा और पोस्टमार्टम बिना सहमति कराने का आरोप लगाया है. अखिलेश यादव ने कहा लखीमपुर खीरी की यह वर्तमान घटना  हाथरस की घटना की पुनरावृति है.