kisan andolan gurunam singh chaduni

Kisan Andolan: गुरुनाम सिंह चढूनी(Gurunam Singh Chaduni) ने कहा हरियाणा सरकार से नहीं बनी बात अब आंदोलन के रुख पर कल ही हो पाएगा फैसला

Kisan Andolan: किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी(Gurunam Singh Chaduni) का आया बयान कहा हरियाणा सरकार से नहीं बनी बात, अब कोई भी फैसला होगा कल.

तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के बाद और MSP को लेकर समिति बनाए जाने के आश्वासन के बाद भी किसान आंदोलन का रूख साफ नहीं हो रहा है.

आज किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी हरियाणा सरकार के साथ किसानों की मांगों को लेकर मीटिंग कर रहे थे. जिसमें किसानों पर दर्ज केस को वापस लेने, आंदोलन में शहीद हुए किसानों को मुआवजा देने विषयों के समबंध में फैसला लिया जाना था.

लेकिन मीटिंग से बाहर निकलने के बाद गुरुनाम सिंह ने कहा कि बातचीत के बाद भी हमारी सहमति नहीं बनी है. हमें सरकार की तरफ से संतोषजनक जवाब नहीं मिला है.

आंदोलन के रुख को लेकर किसान नेता गुरनाम सिंह ने कहा कि कोई भी फैसला कल होने वाली संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में ही लिया जाएगा.

मालूम हो कि कल 4 दिसंबर को किसान संगठनों की बैठक है. जिसमें आंदोलन को लेकर बड़े फैसले लिए जा सकते हैं. जहां कुछ नेता दबी जुबान से यह कह रहे हैं कि अब आंदोलन को वापस लेना चाहिए क्योंकि सरकार ने लगभग सभी मांगें मान ली हैं.

वहीं किसान संगठनों के मुख्य नेताओं का कहना है कि जब तक एम एस पी पर गारंटी और किसानों पर लादे गए झूठे केस वापस नहीं होते, साथ ही मरने वाले किसानों को मुआवजा नहीं मिलता तब तक आंदोलन पर कुछ नहीं कहा जा सकता.

आज किसान नेताओं के साथ मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मीटिंग की थी और इस मीटिंग से यह अनुमान लगाया जा रहा था कि शायद किसानों की मांगों को खट्टर सरकार द्वारा मान लिया जाएगा लेकिन अब ऐसा नहीं लग रहा.

देखना यह है कि कल संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में किसान आंदोलन को लेकर क्या फैसला लिया जाता है. सबकी निगाह अब इसी बैठक पर टिकी हुई है. किसान नेता राकेश टिकैत ने भी पिछले दिनों इसी बैठक का नाम लेकर कुछ भी साफ नहीं कहा था

लुंगी और टोपी को इंगित कर यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का विवादित बयान सुनिए वीडियो में उन्होंने क्या कहा..