KANGANA RANAUT AND VARUN GANDHI

कंगना रानावत(Kangana Ranaut) ने देश की आजादी पर ऐसा क्या कहा कि BJP सांसद वरुण गांधी(Varun Gandhi) ने इसे देशद्रोह और पागलपन से जोड़ दिया

कंगना रानावत(Kangana Ranaut) ने देश की आजादी पर एक इंटरव्यू के दौरान कुछ ऐसा कहा कि जिससे विवाद खड़ा हो गया. BJP सांसद वरुण गांधी(Varun Gandhi) ने इस बयान को लेकर जोरदार हमला किया है.

कंगना राणावत नहीं मानती कि भारत को 1947 में आजादी मिली थी. एक TV इंटरव्यू के दौरान कंगना ने कहा कि देश को 1947 में मिली आजादी आजादी नहीं थी, बल्कि वह भीख थी. कंगना के अनुसार देश को असली आजादी साल 2014 में मिली.

कंगना राणावत के आजादी के बारे में  बयान के बाद विपक्ष हमलावर हो गया है. वहीं बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने भी ट्विटर के माध्यम से कंगना की खिंचाई की है.

वरुण गांधी ने कहा कभी महात्मा गांधी जी के त्याग और तपस्या का अपमान कभी उनके हत्यारे का सम्मान पर अब शहीद मंगल पांडे से लेकर रानी लक्ष्मीबाई भगत सिंह चंद्रशेखर आजाद नेताजी सुभाष चंद्र बोस और लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार.

वरुण गांधी कहते हैं कि ऐसी सोच को मैं पागलपन कहूं या देशद्रोह. मालूम हो कि बीते कुछ समय से वरुण गांधी लगातार बीजेपी के लिए अपने बयानों से मुश्किलें खड़ी कर रहे हैं.

किसान आंदोलन को लेकर भी वरुण गांधी ने बीजेपी को निशाने पर लिया था. वरुण गांधी ने कहा था कि वह हमेशा किसानों के साथ खड़े हैं और किसानों पर कोई अत्याचार नहीं होना चाहिए.

वरुण गांधी ने कंगना राणावत के इंटरव्यू का वीडियो पोस्ट किया है. देखिए इस वीडियो में कंगना राणावत देश की आजादी को लेकर क्या कह रही हैं.

मालूम हो कि पिछले दिनों ही कंगना रानाउत को पद्म सम्मान से सम्मानित किया गया है. उन्हें अभिनय के क्षेत्र में बेहतरीन योगदान के लिए पद्मश्री अवार्ड दिया गया है.

कंगना राणावत अक्सर बीजेपी के सपोर्ट में बयान देती रहती है और खुद को हिंदू धर्म के रक्षक के तौर पर पेश करती हैं. इस साल कंगना राणावत को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है.

वरुण गांधी के इस बयान के बाद कंगना रनौत ने अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. साथ ही बीजेपी के नेताओं ने भी इस पर अभी तक किसी भी प्रकार की कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी है.