Jammu Kashmir report

Jammu Kashmir Report: Article 370 हटने से लेकर अब तक के हालात पर संसद में चर्चा

Jammu Kashmir Report: Article 370 हटने के बाद से लेकर अब तक आतंकवाद की क्या है हालत गृह राज्य मंत्री ने संसद में पेश किए आंकड़े

जम्मू कश्मीर(Jammu Kashmir) से धारा 370(Article 370) के हटने के बाद वहां की स्थिति कितनी बदली इसको लेकर लोगों की राय अलग-अलग है.

जहां विपक्षी पार्टियों का कहना है कि धारा 370 हटाने के बाद जम्मू कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन के मामले तेजी से बढ़े हैं तो वहीं सरकार और सरकारी एजेंसियों का दावा है कि अब जम्मू कश्मीर की हालत पहले के मुकाबले बहुत ही बेहतर हो गई है.

सरकारी बयान में यह लगातार कहा जा रहा है कि आतंकवाद के मामले में अब जम्मू कश्मीर में भारत सरकार द्वारा जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जा रही है.

अभी जिस वक्त यह खबर लिखी जा रही है यानी 2 फरवरी 2022 ठीक इसी समय जम्मू कश्मीर के शोपियां के नदीगाम में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है. इसलिए सरकार का यह बयान ठीक जान पड़ता है कि जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जा रही है.

लेकिन साथ ही यह सवाल भी उठता है कि आखिर 1 साल से भी अधिक समय गुजर जाने के बाद भी जम्मू कश्मीर में आतंकवादी घटनाएं कम होने का नाम क्यों नहीं ले रही हैं.

आज राज्यसभा में सरकार की तरफ से गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद मुठभेड़ की घटनाओं और उस में शहीद हुए सुरक्षा कर्मियों तथा मारे गए आतंकवादियों की संख्या के बारे में पूरी जानकारी दी है.

गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने राज्यसभा में यह जानकारी दी है कि धारा 370 के खत्म होने से लेकर अभी तक जम्मू कश्मीर में 109 सुरक्षाकर्मियों और 98 आम नागरिकों की जानें गई हैं.

आज राज्यसभा में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बताया कि जम्मू कश्मीर में अभी तक 541 आतंकवादी घटनाएं हुई हैं और सुरक्षा बलों द्वारा की गई कार्यवाही में अभी तक 439 आतंकवादी मारे गए हैं.