Iskcon Temple Bangladesh

Iskcon Temple Bangladesh: बांग्लादेश में इस्कॉन टेंपल को चरमपंथियों ने बनाया अपना निशाना, बीते साल दुर्गा पूजा पंडाल में भी हुई थी तोड़फोड़ की घटना

Iskcon Temple Bangladesh: बांग्लादेश में कट्टरपंथियों का आतंक Iskcon Temple के भीतर जमकर तोड़फोड़ और लूटपाट इस्कॉन इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट ने दिया The Kashmir Files फिल्म का उदाहरण

बांग्लादेश में इस्कॉन मंदिर( Iskcon Temple) के भीतर कट्टरपंथी लोगों की भीड़ ने जमकर उत्पात मचाया जिनकी संख्या 200 के करीब बताई जा रही है. कट्टरपंथी लोगों ने वहां सिर्फ तोड़फोड़ ही नहीं की बल्कि वहां जमकर लूटपाट भी किया है, ऐसा मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है.

इस घटना को लेकर इस्कॉन इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट का एक बयान सामने आया है जो कि बेहद ही संवेदनशील है. इस्कॉन इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट रामदास ने कश्मीर फाइल फिल्म(The Kashmir File) का उदाहरण देते हुए कहा है कि हिंदुओं  में इस फिल्म के माध्यम से जागृति आई है और हिंदुओं को फिर से नहीं सोना चाहिए.

इस्कॉन इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट रामदास ने इस घटना को लेकर यूनाइटेड नेशन(UN) को भी कटघरे में खड़ा किया है. उन्होंने यूनाइटेड नेशन को लेकर कहा है कि हमें आश्चर्य है कि संयुक्त राष्ट्र हजारों और असहाय बांग्लादेशी और पाकिस्तानी अल्पसंख्यकों की पीड़ा पर चुप्पी साधे हुए हैं.

इस्कॉन इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट रामदास ने यूनाइटेड नेशन की इस चुप्पी को लेकर अफसोस भी जताया है वहीं इस घटना को लेकर अब भारत में भी राजनीति शुरू हो गई है शिवसेना ने इस घटना को लेकर विदेश मंत्रालय से हस्तक्षेप की मांग की है.

बताते चलें कि बीते साल बांग्लादेश में ही दुर्गा पूजा के मौके पर एक दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान रखे जाने को लेकर विवाद हुआ था. जिसके बाद कई CCTV फुटेज सामने आए थे जिससे यह पता चला था कि घटना सुनियोजित थी और इसमें पंडाल संचालकों का कोई हाथ नहीं था.