Inside Taj Mahal 4 Tourists Arrested

Inside Taj Mahal 4 Tourists Arrested For Offering Namaz: ताजमहल में धार्मिक भावनाओं को भड़काने के आरोप में 4 मुस्लिम युवक गिरफ्तार, बिना इजाज़त नमाज़ पढ़ने की कर रहे थे कोशिश

Inside Taj Mahal 4 Tourists Arrested For Offering Namaz: ताजमहल परिसर से 4 मुस्लिम युवकों को CRPF सुरक्षाकर्मियों ने किया गिरफ्तार, धार्मिक भावना और शांति व्यवस्था को बिगाड़ने के आरोप IPC की धारा 153 के तहत मामला दर्ज..

आगरा  ताजमहल(Taj Mahal) परिसर से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. जहां चार मुस्लिम युवकों पर ये आरोप है कि उन्होंने ताजमहल में स्थित मस्जिद में जाकर नमाज पढ़ी. नमाज पढ़े जाने की सूचना मिलते ही ताजमहल की सुरक्षा में तैनात CRPF के जवानों ने माहौल खराब ना हो इस कारण उन चारों युवकों को हिरासत में ले लिया और नजदीकी थाने को सौंप दिया. पुलिस ने भारतीय दंड संहिता(IPC) की धारा 153 के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

गिरफ्तारी पर युवकों की सफाई: इस गिरफ्तारी पर युवकों का कहना है कि वे लोग पर्यटन के दृष्टिकोण से आगरा आए थे और ताजमहल का दीदार करने पहुंचे थे. जहां उन्हें मस्जिद दिखी तो वहां पर नमाज अदा करने लगे.वहीं पुलिस इस मामले में सतर्कता से जांच कर रही है. इन चार युवकों में से तीन हैदराबाद के बताए जा रहे हैं और एक युवक आजमगढ़ का बताया जा रहा है.

आप सोच रहे होंगे कि युवकों ने मस्जिद में नमाज़ अदा कि तो इसके लिए उन्हें गिरफ्तार क्यों किया गया. तो मालूम हो कि ताज महल परिसर में स्थित मस्जिद में सिर्फ जुमे की नमाज़ की ही इजाज़त है और वो भी सिर्फ स्थानिय लोगों को. ताज महल में स्थानिय लोगों को शुक्र्वार के दिन अपना परिचय पत्र दिखाकर नमाज़ पढने की इजाज़त दी गई है. अन्य दिनों में यहां नमाज़ की इजाज़त नही है.

बीते कई महीनों से ताजमहल(Taj Mahal) को लेकर कई विवाद सामने आ चुके हैं. कभी कोई हनुमान चालीसा पढ़ने पहुंचाता है तो कभी कोई ताजमहल बंद दरवाजों को खुलवाने के लिए कोर्ट से गुहार लगाता है लेकिन इन सभी गतिविधियों के बीच पुलिस प्रशासन मुस्तैद है पर अपना काम बेहतर तरीके से कर रहे हैं.

जिन चार लड़कों को गिरफ्तार किया गया है उनका कहना है कि उन्हें ताज महल(Taj Mahal) में नमाज़ संबंधित नियम की जानकारी नहीं थी और भूलवश उन्होंने ऐसा किया. लेकिन सच्चाई का पता तो जांच के बाद ही चलेगा अभी देश में ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर भी गहमागहमी का माहौल है और ऐसे में किसी भी प्रकार की छोटी से छोटी घटना भी माहौल खराब कर सकती है और आपसी भाईचारे को भी प्रभावित कर सकती है. ऐसे में प्रशासन चुस्त दुरुस्त रहना. आवश्यक है.