Ghaziabad Fire

Ghaziabad Fire Incident: उत्तर प्रदेश गाजियाबाद में भीषण अग्निकांड, गौशाला की 100 से अधिक गायें आग की चपेट में आकर जिंदा जली

Ghaziabad Fire Incident: गाजियाबाद में हिंडन नदी के किनारे भीषण अग्निकांड(Fire Incident), गौशाला की 100 से अधिक गायें(Cows) तड़प-तड़प कर आग में जिंदा जलीं, झुग्गी बस्ती(Slums) आग में स्वाहा, पूरे इलाके में दहशत का माहौल, सीएम योगी ने जताया दुख..

आज गाजियाबाद(Ghaziabad) हिंडन नदी के किनारे बसी झुग्गियों(Slums) में आग(Fire) लगने से झुग्गियों के साथ-साथ पास में स्थित गौशाला की 100 से अधिक गायें भी आग की चपेट में आ गई. आग इतनी भयावह थी कि कुछ ही देर में गौशाला की 100 से अधिक गायें जलकर राख हो गई.

इस घटना के प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार आग की लपटों के बीच गायें लगातार वहां से बाहर निकलने का प्रयास कर रही थी. बाहर निकलने के लिए वह छटपटा रही थी, लेकिन बंधे होने की वजह से गायें वहां से नहीं निकल पा रही थी. वैसे कई अन्य गायों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया.

गायों की मृत्यु की पुष्टि श्री कृष्णा गौ सेवा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कर दी है. उनके अनुसार आग की चपेट में आकर सौ से अधिक गायों की मौत हो गई है. जबकि अन्य गायों को गौशाला कर्मियों द्वारा सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया.

इस अग्निकांड के पीछे जो सबसे बड़ी वजह है बताई जा रही है वह है हिंडन नदी के किनारे सूखे कूड़े का अंबार और वहां बसी झुग्गियां. ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि आग सबसे पहले सूखे कूड़े में लगी और इसके बाद झुग्गियों में फैल गई.आग के प्रचंड होने के पीछे झुग्गियों में रखे गैस सिलेंडर में हुए विस्फोट ने भी अहम भूमिका निभाई.

इसके साथ ही अभी दिल्ली सहित पूरे देश में शुष्क गर्म हवा बह रही है. जिसने इस आग में घी का काम किया. आग की घटना और जानमाल के नुकसान पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुख व्यक्त किया है.