The Bharat Bandhu

COVID-19 की तीसरी लहर (Third Wave) को लेकर Dr Naresh Trehan ने दिया बड़ा बयान school reopening को जल्दबाजी में उठाया गया कदम बताया

IMG 20210829 172738 द भारत बंधु

COVID-19 पर Dr Naresh Trehan का ताजा बयान एक चिंता का विषय है ,इसको गंभीरता से लेने की जरूरत है. आखिर बच्चों के   School Reopening को लेकर क्यों है नरेश त्रेहान इतने चिंतित!!

मेदांता के चेयरमैन और देश के जाने माने सर्जन डॉक्टर नरेश त्रेहान ने बच्चों के स्कूलों को खोले जाने को लेकर गंभीर चिंता जाहिर की है.

डॉक्टर नरेश त्रेहान का कहना है कि आखिर बच्चों के स्कूल खोले जाने को लेकर इतनी जल्द बाजी क्यों है  जबकि अभी बच्चों का टीकाकरण भी नहीं हुआ है.

नरेश त्रेहान ने कहा है कि अगर तीसरी लहर(Third Wave) को लेकर जो चिंता जताई जा रही है, वह सही साबित हुई तो हम   बीमारों को संभालने में असमर्थ हो जाएंगे.

डॉक्टर नरेश त्रेहान की चिंता जायज भी है क्योंकि अगर स्कूल खोल दिए गए जैसा कि कुछ राज्यों में खोल दिया गया है और दिल्ली में खुलने की तैयारी है, तो इससे corona के फैलने की संभावना अधिक है.

अभी हाल में ही एक सरकारी पैनल ने अपनी रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें यह साफ कहा गया था कि corona की तीसरी लहर में बच्चों को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचने की संभावना है.

इस रिपोर्ट में सितंबर और अक्टूबर  के महीने को सबसे खतरनाक बताया गया है. और वहीं अधिकतम राज्यों ने अपने यहां विद्यालयों को सितंबर से खोलने की घोषणा कर रखी है.

जहां तक बच्चों के टीकाकरण का सवाल है तो अभी तक बच्चों का टीकाकरण नहीं हो पाया है. लेकिन  खुशी की बात यह है कि बच्चों के लिए भी अब वैक्सीन  बनकर तैयार हो चुकी है.

नरेश त्रेहान ने जोर देते हुए कहा है कि स्कूलों को बच्चों के संपूर्ण टीकाकरण के बाद ही खोला जाना चाहिए.कहीं ऐसा ना हो कि स्कूल खोलने की हड़बड़ाहट में हम एक बड़े संकट को निमंत्रण दे दें.

अगर देश में corona की रफ्तार की बात करें तो देश का दक्षिणी राज्य केरल फिर से एक बार Covid-19 की चपेट में आ गया है.  केरल में लगातार 30,000 से अधिक मामले आ रहे हैं.

वहीं  देश में बीते 24 घंटे में corona के 45083 नए संक्रमित पाए गए. साथ ही इस महामारी से 460 लोगों की जान भी चली गई.

बीते 24 घंटे में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 35840 है. अब भारत में  कुल 368558 एक्टिव मरीज हैं, यानी कि जिन मरीजों का इलाज अभी चल रहा है.

रविवार को आए मामले शनिवार के मामलों से कम हैं.    शनिवार को corona के 46759 नए मरीज मिले थे और 509 लोगों ने corona के आगे घुटने टेक दिए.

एक सुखद बात यह है कि   देश में वैक्सीनेशन की रफ्तार अब बढ़ने लगी है. बीते दिनों एक दिन में लगभग एक करोड़ टीके लगाए गए जो कि एक रिकॉर्ड है.

देश