Bihar Liquor Ban

Bihar Liquor Ban: बिहार में शराब पीने वालों को नहीं खानी होगी जेल की हवा लेकिन शर्तें लागू

Share

Bihar Liquor Ban:शराबबंदी को लेकर Bihar सरकार का बड़ा फैसला, शराब पीने वाले व्यक्ति को अब नहीं होगी जेल लेकिन इसके लिए शराब बिक्री करने वालों का बताना होगा पता

बिहार(Bihar) सरकार ने शराब(Liquor) की अवैध बिक्री पर लगाम लगाने के लिए एक बड़ा फैसला लिया है जिसमें शराब पीने वालों को अब जेल की हवा नहीं खानी होगी लेकिन इसके लिए शराब पीने वाले व्यक्ति को शराब का स्रोत बताना होगा जहां से  उसने शराब की खरीदारी की है.

बिहार सरकार का दावा है कि इस प्रकार से लोगों में जागरुकता आएगी और वह बिना डरे शराब माफियाओं का नाम बता सकेंगे क्योंकि इससे पहले बिहार में शराब पीने वालों को पकडे जाने पर सीधे जेन जाना होता था मालूम हो कि 5 April 2016 से ही बिहार में शराब पर प्र्तिबंध लागू है.

इस नियम को लेकर आम से लेकर खास लोगों की बीच चर्चा शुरू हो गई है.ज्यादातर लोगों का कहना है कि सरकार के इस कदम से शराबबंदी पर कोई खास असर नहीं पड़ेगा क्योंकि जो व्यक्ति शराब पिएगा वह शराब बेचने वाले का पता कभी भी आसानी से नहीं बताएगा.

दूसरी बात यह भी है कि अगर कोई व्यक्ति शराब पीता है और शराब के स्रोत का पता बताता है तो उसकी जान पर भी बन सकती है क्योंकि शराब माफियाओं का अभी भी बिहार में बोलबाला है.

सरकार द्वारा शराबबंदी के नियमों में ढील दिए जाने को लेकर पहले से ही चर्चा का बाजार गर्म था. हमने भी अपनी खबर में यह पहले ही बताया था कि सरकार शराबबंदी को लेकर कोई बड़ा फैसला ले सकती है.

शराबबंदी के कड़े नियमों के कारण बिहार सरकार की काफी आलोचनाएं होती थी साथ ही आम जनता भी शराबबंदी के कड़े प्रावधानों से काफी नाराज थी क्योंकि बहुत सारे ऐसे मामले थे जिसमेंं लोगों को सख्त नियमों के कारण झूठे केस में भी जेल जाना होता था.

अब शराब पीने वाले लोगों को जहां गिरफ्तारी से राहत मिलेगी तो वहीं शराब माफियाओं पर सरकार का शिकंजा और अधिक कसने की उम्मीद है लेकिन कुछ लोगों का यह भी मानना है कि शराबबंदी के नियमों में ढील दिए जाने से बिहार में फिर से शराब की बिक्री और शराब पीने वालों की संख्या में बढ़ोतरी होगी.

Scroll to Top