Amar Jawan Jyoti

Amar Jawan Jyoti: अमर जवान ज्योति को आखरी बार देख पाएंगे लोग

Amar Jawan Jyoti: अमर जवान ज्योति का India Gate पर आज आखरी दर्शन, जानिए क्या है इसकी वजह

अमर जवान ज्योति(Amar Jawan Jyoti) के पास खड़े होकर शायद ही ऐसा कोई होगा जो दिल्ली इंडिया गेट आया हो और अपनी तस्वीर नहीं खिंचवाई हो.

इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति(Amar Jawan Jyoti) की जलती मशाल को देखकर किसी भी भारतीय का सीना चौड़ा हो जाता है, सुबह हो या शाम हर वक्त इसकी लौ जलती रहती है.

लेकिन सरकार के एक निर्णय के बाद अब कोई भी 21 जनवरी 2022 के बाद इस मशाल को इंडिया गेट  पर नहीं देख पाएगा. इसलिए कल जिसके भी मोबाइल का कैमरा इस जलती हुई लौ कि आखरी तस्वीर को खींच पाएगा वह सौभाग्यशाली होगा.

ऐसा 70 साल बाद होगा कि अमर जवान ज्योति(Amar Jawan Jyoti) की मशाल को इसके वास्तविक स्थान से हटाया जाएगा. अमर जवान ज्योति को नेशनल वार मेमोरियल में जल रही मसाल के साथ समाहित कर दिया जाएगा.

भारत सरकार के निर्देश के अनुसार अब एक ही स्थान पर दोनों मशालों को एक साथ प्रज्जवलित किया जाएगा.

बताते चलें कि 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में शहीद हुए भारतीय सैनिकों के सम्मान में इंडिया गेट पर अमर ज्योति जलती रहती थी.

अमर ज्योति के स्थान परिवर्तन से इंडिया गेट पर थोड़ा सूनापन तो जरूर महसूस होगा, इससे कोई इनकार नहीं कर सकता.

जब इसके स्थान परिवर्तन को लेकर हमारी टीम ने लोगों से प्रतिक्रिया जाननी चाही तो अधिकतर लोगों ने एक सुर में यही कहा कि “अमर जवान ज्योति” का सिर्फ स्थान परिवर्तन हो रहा है है “लौ” तो वही पुरानी  रहेगी.