Jaipur Murder Case

Jaipur Murder Case: इंजीनियर भतीजे ने ग्राइंडर से अपनी चाची को कई टुकड़ों में काटा

Share

Jaipur Murder Case : राजस्थान जयपुर कलयुगी भतीजे ने ताई के शरीर को ग्राइंडर से काटा लाश के टुकड़ों को जंगल में लगाया ठिकाने ताई ने धार्मिक आयोजन में जाने से रोका था..

राजस्थान(Rajasthan Jaipur Murder Case) के जयपुर में एक कलयुगी भतीजे ने अपनी ताई(Aunt) के शरीर को लोहे को काटने वाली ग्राइंडर(Electric Grinder) से कई टुकड़ों में काटकर मौत की नींद सुला दी. जैसे ही लोगों को इस हत्याकांड(Murder Case) की खबर मिली एक बार फिर से लोगों की आंखों के सामने दिल्ली श्रद्धा कांड(Delhi Shraddha Murder Case) का दृश्य कौंध गया.

दरअसल यह ताजा मामला Jaipur के विद्याधर नगर सेक्टर 2 का है. जहां बीते 11 दिसंबर को अनुज शर्मा जो मृतका का भतीजा है उस पर यह आरोप है कि उसने अपनी ही ताई की निर्मम तरीके से हत्या(Murder) कर दी. इस हत्याकांड(Jaipur Murder Case) को अंजाम देने के लिए आरोपी अनुज शर्मा ने सबसे पहले अपनी ताई सरोज देवी के माथे पर हथौड़े(Hammer) से वार किया उसके बाद सरोज देवी के शरीर को खींचकर बाथरूम ले गया.

बाथरूम ले जाकर अनुज शर्मा अपनी ताई के शरीर के टुकड़े करने लगा. शरीर के टुकड़े करने के लिए उसने सब्जी काटने वाले चाकू का इस्तेमाल किया. लेकिन हड्डियों के सब्जी काटने वाले चाकू से नहीं कटने पर उसने फिर से एक शातिर कदम उठाया.

सरोज देवी की लाश को वहीं छोड़ अनुज शर्मा बड़े ही आराम से बाजार गया और बाजार से लोहे को काटने वाला इलेक्ट्रिक ग्रेंडर लेकर आया. लोहे को काटने वाले ग्रेंडर से अनुज शर्मा ने अपनी ही ताई के शरीर के कई टुकड़े कर दिए.

इस हत्याकांड के पीछे जो मुख्य वजह बताई जा रही है वह है अनुज शर्मा की चाची के द्वारा अनुज शर्मा को एक धार्मिक कार्यक्रम में जाने से रोकना. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अनुज शर्मा दिल्ली में किसी धार्मिक कार्यक्रम में जाना चाह रहा था.जिसको लेकर उसके और उसकी चाची के बीच कहासुनी हो गई और इसी बात से खफा होकर अनुज शर्मा ने अपनी ताई को जान से मार दिया.

अपनी ताई को मौत की नींद सुलाने के बाद आरोपी अनुज शर्मा लाश को ठिकाने लगाने के बारे में सोचने लगा और वह लाश को लेकर इधर-उधर जगह तलाशने लगा कि आखिर कहां इसे ठिकाने लगाया जाए.

उसके बाद उसने अपनी ताई की लाश को जिसे कि उसने पहले ही कई टुकड़ों में काट कर एक बैग रख रखा था उसे वन विभाग के ऑफिस के पीछे दो जगहों पर मिट्टी खोदकर डाल दिया.

इस हत्याकांड का पता किसी को नहीं चलता क्योंकि अनुज शर्मा ने सब को यह बता रखा था कि उसकी चाची घर से बाहर गई थी और वह लापता हो गई. लेकिन जब अनुज शर्मा की बहनों को इस बात की सूचना मिली तो वह घर आई और अनुज शर्मा के व्यवहार को देखकर ऐसा उन्होंने अंदाजा लगाया कि कुछ न कुछ तो गड़बड़ है.

दो में से एक बहन को अनुज शर्मा पर इसलिए शक हुआ क्योंकि जब वह आई थी तो अनुज शर्मा घर की दीवारों पर खून के धब्बों को मिटा रहा था. जब उसने अनुज शर्मा से सवाल किया तो उसने कुछ बहाना बना दिया. जिसके बाद उसकी बहन का शक और गहरा हो गया. फिर दोनों बहनों ने मिलकर पुलिस थाने में एफ आई आर दर्ज करवाई.

हाल के दिनों में इस प्रकार की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं जिसमें हत्या के बाद हत्यारे द्वारा लाश को कई टुकड़ों में काट दिया जाता है. इसके दो ताजा मामले तो दिल्ली से ही सामने आए हैं, जिसमें एक श्रद्धा हत्याकांड का मामला है तो दूसरा मामला  एक पत्नी और उसके बेटे द्वारा अपने ही पति की हत्या का मामला है.

दिल्ली के श्रद्धा हत्याकांड मामले में आरोपी आफताब पूनावाला ने एक और हैरतअंगेज कारनामा किया है. जब आफताब पूनावाला के वकील ने कोर्ट में उसके लिए जमानत याचिका दायर की थी तो सुनवाई के दौरान आफताब पूनावाला ने कहा कि मुझे पता ही नहीं है कि मेरे लिए जमानत याचिका दायर की गई है.

बताते चलें कि दिल्ली में हुए श्रद्धा हत्याकांड में आफताब पूनावाला पर यह आरोप है कि उसने अपने ही गर्लफ्रेंड श्रद्धा की हत्या की है और उसकी लाश को 36 टुकड़ों में काटकर  दिल्ली के छतरपुर के जंगलों में फेंक दिया. दिल्ली पुलिस ने इस संबंध में आफताब पूनावाला को हिरासत में लिया है और वह अभी जेल में है आफताब पूनावाला का पॉलीग्राफ टेस्ट और नारको टेस्ट भी किया जा चुका है.

Scroll to Top