CM KEJRIWAL @ MEETING WITH PM MODI: CM केजरीवाल की गुहार OXYGEN SUPPLY में ARMY की ली जाए मदद, जहां से आनी है ऑक्सीजन उन राज्यों में रोकी जा रही है गाड़ियां, ऑक्सीजन टैंकर को एस्कॉर्ट करे आर्मी, अगर समय रहते दिल्ली को ऑक्सीजन नहीं मिली तो घट सकती है कोई बड़ी घटना…

CM KEJRIWAL @ MEETING WITH PM MODI

एक मुख्यमंत्री और इतना बेबस आज CM केजरीवाल प्रधानमंत्री मोदी के साथ हो रही मीटिंग में एक याचक की भूमिका में नजर आए.
दो करोड़ लोगों का प्रतिनिधित्व करने वाला व्यक्ति जब इतना बेबस, लाचार और आशंकाओं से भरा हो तो स्थिति की गंभीरता को आमजन को भी समझना चाहिए.

मुख्यमंत्री केजरीवाल की आशंका यूं ही नहीं है अगर समय रहते दिल्ली को ऑक्सीजन टैंक मुहैया नहीं कराया गया तो दिल्ली में कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है जिससे कि कोई इनकार नहीं कर सकता.

मालूम हो कि हेल्थ विशेषज्ञ, डॉक्टर और एक्स्पर्ट्स नवंबर से ही OXYGEN की कमी के बारे में सरकार को आगाह कर रहे थे लेकिन केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों ने ही corona को हल्के में लिया.

इन लोगों को ऐसा लग रहा था कि corona पर हम लोगों ने विजय पाली है जबकि वैज्ञानिकों ने भारत में दूसरी लहर के अधिक घातक होने के विषय में पहले ही घोषणा कर दी थी.

कल भी जब लोग दिल्ली और देश के अन्य राज्यों में ऑक्सीजन के लिए तड़प कर मर रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ चुनावी राज्यों में लोग लाइन में लगकर मतदान कर रहे थे.नेता तभी संवेदनहीन होते हैं जब उनको चुनने वाली जनता संवेदनाओं को दरकिनार करती है.

वैसे प्रधानमंत्री मोदी के साथ केजरीवाल ने जो मीटिंग में कहा वह बड़ा ही भावुक कर देने वाला है इस बात से कोई इनकार नहीं कर सकता कि अब जब स्थिति भयानक हो चुकी है तब जो प्रयास किए जा रहे हैं वह पहले किए जाने चाहिए थे.